बरोदा उपचुनाव: कांग्रेस ने चुनाव आयोग में हिस्ट्रीशीटर रमेश लोहार और पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर की दी लिखित शिकायत, भाजपा कार्यकर्ताओं के पास हैकिंग मशीन होने का लगा आरोप

हरियाणा के बरोदा विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान जारी है। हरियाणा के 33वीं विधानसभा बरोदा के 180506 मतदाता अपने मत का प्रयोग कर अपना विधायक चुनेंगे। हलके के 54 गांवों में से 21 गांव संवेदनशील घोषित, 65 लोकेशनों पर 151 बूथ स्थापित।

बरोदा उपचुनाव: कांग्रेस ने चुनाव आयोग में हिस्ट्रीशीटर रमेश लोहार और पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर की दी लिखित शिकायत, भाजपा कार्यकर्ताओं के पास हैकिंग मशीन होने का लगा आरोप
पोलिंग बूथ पर लगी मतदाताओं की लाइन।

हरियाणा के 33वीं विधानसभा बरोदा में मंगलवार को उपचुनाव के लिए सुबह 7 बजे शुरू हुआ मतदान शांतिपूर्वक जारी है। हलके के 180506 मतदाता आज अपने मत का प्रयोग कर अपना विधायक चुनेंगे। लोग हल्की ठंड के मौसम में सुबह-सुबह शॉल ओढ़कर मतदान करने पहुंचे। दूसरी ओर पोलिंग बूथों पर कोविड 19 को लेकर पूरी सावधानी बरती जा रही है। मतदान से पहले मतदाताओं के हाथ सैनिटाइज करवाए जा रहे हैं। ग्लव्स और मास्क पहनने को दिए जा रहे हैं। उसके बाद ही मतदाता वोट डाल रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस ने चुनाव आयोग को हिस्ट्रीशीटर रमेश लोहार और पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर की शिकायत की है।

कांग्रेस नेतृत्व की तरफ से पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर और हिस्ट्रीशीटर रमेश लोहार के खिलाफ चुनाव आयोग को लिखित शिकायत दी है। आरोप है कि बाहरी क्षेत्र से होने के बावजूद दोनों मंगलवार को मतदान के दौरान मदीना गांव के 176 नंबर बूथ में अवैध तौर पर दाखिल हुए और मतदान को प्रभावित करने की कोशिश की। गौरतलब है कि इन दोनों पर लोकसभा चुनाव 2019 में भी बूथ कैप्चरिंग के आरोप लगे थे। कांग्रेस ने मामला दर्ज करवाया तो हिस्ट्रीशीटर रमेश लोहार से हथियार बरामद हुए थे और उसे 3 दिन तक जेल में रहना पड़ा था।

हैकिंग मशीन होने का लगा आरोप

शामड़ी गांव में भाजपा कार्यकर्ताओं के पास हैकिंग मशीन होने का आरोप लगाया गया। भाजपाइयों ने सफाई दी कि यह स्लिप निकालने की मशीन है। यह मशीन इंटरनेट से कनेक्ट नहीं हो सकती। कुछ देर कहासुनी के बाद मतदान फिर से शांतिपूर्वक तरीके से शुरू हो गया। रिंढाना गांव में भी कांग्रेस उम्मीदवार इंदुराज नरवाल के परिवार वालों ने एक युवक को पकड़ा। उनका कहना है कि यह मशीन वाला व्यक्ति कहीं बाहर बैठकर लोगों के वोटों के साथ झोल कर रहा था।

निगरानी के लिए तैनात है फोर्स

बरोदा हलके के 54 गांवों में से 21 गांवों को संवेदनशील घोषित किया गया है। इन गांवों के 65 लोकेशनों पर 151 बूथ स्थित हैं। इन गांवों में विशेष रूप से अधिक फोर्स की तैनाती की गई हैं और गांव के बूथों पर सेंट्रल आ‌र्म्ड पुलिस फोर्स (सीएपीएफ) तथा आइआरबी व सीआईएसएफ की टुकड़ियां तैनात की हैं। मतदान केंद्र पर मतदान अधिकारी पीपीई किट पहनकर मतदान कराएंगे। साथ ही बूथों पर सैनिटाइजर, मास्क और यूज एंड थ्रो ग्लव्स का भी प्रबंध किया गया है।