अवैध संबंधों के चलते पति को उतारा मौत के घाट, पुलिस के सामने बाद में खोला हत्या का राज

अवैध संबंधों के चलते पति को उतारा मौत के घाट, पुलिस के सामने बाद में खोला हत्या का राज
अवैध संबंधों के चलते पति को उतारा मौत के घाट
हरियाणा के पानीपत के धूपसिंह नगर की गली नंबर 20 निवासी एक महिला ने अवैध संबंधों के चलते अपने पति को मौत के घाट उतार दिया। इतना ही नहीं अपने जुर्म को छुपाने के लिए वह दिन भर अपने पति के सर को गोद में लेकर बैठी रही और रोती रही। लेकीन जब पुलिस ने महिला से पूछा कि कल रात क्या हुआ था, तो वह जवाब नहीं दे पाई। जिसकी वजह से पुलिस को शक हुआ। और जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की, तब जाकर महिला ने अपना जुर्म कबूला।
मामले को लेकर उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर निवासी ब्रह्मपाल ने बताया कि उनका 26 वर्षीय बेटा जोकि एक फैक्टरी में सिलाई का काम करता था। वह धूपसिंह नगर में अपनी पत्नी संगीता और दो बेटे साहिब व सामित के साथ रहता था। लेकिन घटना वाले दिन संगीता के मायके से अनिल के बड़े भाई के पास फोन पहुंचा था। कि अनिल मर गया है। तो वहीं मृतक के पिता ने बताया कि 10 साल पहले करीब संगीता और अनिल की शादी हुई थी। और शादी के बाद अनिल और उसके परिवार को मालूम पड़ा कि संगीता शादी से पहले गांव के ही एक लड़के के साथ भाग चुकी थी। और अब शादी के बाद उसका अनिल के बड़े भाई के बेटे से प्रेम प्रसंग चल रहा था। जोकि संगीता से करीब 10 साल छोटा है। जिस पर अनिल के माता पिता का कहना है कि संगीता ने उनके बेटे अनिल को खाने में जहर दिया होगा।
माता पिता के कहने पर पुलिस ने आरोपी संगीता और उसके प्रेमी भतीजे पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। साथ ही कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी महिला ने कबूला कि घटना वाली रात जब अनिल काम से वापस लौटा था। और सोने के लिए चला गया, तब उसने अपने प्रेमी संग मिलकर अपनी पति का गला घोंट दिया और फिर सुबह उठकर सबको खबर दी। कि अनिल मर गया है। इतना ही नहीं आरोपी महिला और उसके प्रेमी ने मिलकर मृतक अनिल का फोन भी छुपा दिया। इस पर पुलिस ने अनिल के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने पर महिला और उसके प्रेमी को हिरासत में ले लिया है। तो वहीं अनिल की मौत से परिवार और सारा गांव सदमे में है।