5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे पीएम मोदी

5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे पीएम मोदी

      अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए पांच अगस्त को भूमि पूजन किया जाएगा। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी ने बुधवार को इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा।

पुणे में न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए गोविंद देव गिरी ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए 150 मेहमान समेत 200 लोगों को आमंत्रित किया गया है।' उन्होंने आगे कहा, 'भूमि पूजन से पहले, पीएम मोदी भगवान राम और हनुमान गढ़ी मंदिर में भगवान हनुमान की पूजा करेंगे। सभी मुख्यमंत्रियों को इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया जाएगा।'

इससे पहले 18 जुलाई को श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की अयोध्या में हुई बैठक में लिए गए निर्णय के बाद पांच अगस्त को भूमि पूजन का दिन तय किया गया था। ट्रस्ट की बैठक में ही भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी आमंत्रित करने का फैसला लिया गया था और उसी दिन उन्हें आमंत्रित किया गया था। बताया जाता है कि ट्रस्ट के आमंत्रण को प्रधानमंत्री कार्यकाल ने स्वीकृति दे दी थी।

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री पांच अगस्त को सुबह 11 बजे से दोपहर एक बजकर दस मिनट तक अयोध्या में रहेंगे। इस दौरान वे भूमि पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लेने के साथ वहां उपस्थित संत समुदाय को भी संबोधित करेंगे। सूत्रों के अनुसार भूमिपूजन कार्यक्रम के लिए अयोध्या आंदोलन से जुड़े प्रमुख संतों व नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है। इनमें भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, डॉ मुरली मनोहर जोशी, विनय कटियार, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा आदि शामिल हैं। संघ प्रमुख मोहन भागवत के आने का भी कार्यक्रम है।