कर्म योद्घा, प्रखर राष्टï्रभक्त व महान समाज सुधारक थे डॉ. मंगल सेन :- मुख्यमंत्र…


कर्म योद्घा, प्रखर राष्टï्रभक्त व महान समाज सुधारक थे डॉ. मंगल सेन :- मुख्यमंत्री मनोहर लाल
– कहा, राष्टï्र के प्रति था उनका पूर्ण समर्पण भाव
– समाज, प्रदेश व राष्टï्र को समर्पित था डॉ. मंगल सेन का जीवन :- प्रेमचंद गोयल
– नई पीढ़ी के लिए प्रेरणा स्त्रोत है डॉ. मंगल सेन :- सांसद डॉ. अरविंद शर्मा
– राज्य सरकार कर रही है डॉ. मंगल सेन के सपनों को साकार :- मनीष कुमार ग्रोवर
– मदवि में डॉ. मंगल सेन की जयंती पर आयोजित स्मृति नमन कार्यक्रम
रोहतक, 27 अक्टूबर : हरियाणा के पूर्व उप- मुख्यमंत्री, भारतीय जनता पार्टी के प्रबुद्ध नेता तथा प्रतिष्ठित समाजसेवी डा. मंगल सेन की जयंती पर आज महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (मदवि) के डा. मंगल सेन शोध पीठ के तत्वावधान में स्मृति नमन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में डा. मंगल सेन के जीवन, उनके कार्यों, तथा उपलब्धियों को याद करते हुए वक्ताओं ने श्रद्धासुमन अर्पित किए।
इस कार्यक्रम में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल का संदेश विश्वविद्यालय कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने पढ़ा। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में डा. मंगल सेन को कर्म योद्धा, प्रखर राष्ट्रभक्त तथा महान समाज सुधारक बताया। उन्होंने डा. मंगल सेन को हरियाणा प्रदेश के हितों का रक्षक तथा प्रांत व राष्ट्र के प्रति समर्पित नेता बताया।
कार्यक्रम में मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक तथा प्रतिष्ठित समाज सेवी प्रेमचंद गोयल ने कहा कि सादगीपूर्ण जीवन की मिसाल, भारत माता के सच्चे सपूत डा. मंगल सेन ने अपना पूरा जीवन समाज, प्रदेश तथा राष्ट्र को समर्पित कर दिया था। वे अपने लिए नहीं, अपनों (जन-मानस) के लिए जीए, तथा जीवन पर्यंत समाज कल्याण के लिए कार्यरत रहे। वसुधैव कुटुम्बकम के मूल्य को मानने वाले डा. मंगल सेन को उन्होंने सिद्धांतवादी व्यक्ति बताया। प्रेमचंद गोयल ने कहा कि डा. मंगल सेन राष्ट्रीय विचारधारा के प्रचार-प्रसार तथा अखण्ड भारत की स्थापना के लिए कार्यरत रहे।
रोहतक लोकसभा क्षेत्र के सांसद डा. अरविंद शर्मा ने डा. मंगल सेन के समाज-प्रदेश-हित के प्रति समर्पण भाव, सादगीपूर्ण जीवन, सच्चाई तथा संस्कारों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि मंगल सेन नई पीढ़ी के प्रेरणा स्त्रोत हैं।
आनलाइन माध्यम से जुड़े रोहतक के पूर्व विधायक तथा पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने कहा कि डा. मंगल सेन का सबका साथ, सबका विकास का सपना वर्तमान में हरियाणा सरकार प्रदेश में पूरा कर रही है। उन्होंने कहा कि डा. मंगल सेन का पूरा राजनीतिक जीवन समाज के अंतिम व्यक्ति के कल्याण के लिए समर्पित रहा। कार्यक्रम में आनलाइन माध्यम से शिरकत करते हुए हरियाणा के पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि डा. मंगल सेन तपस्वी, ईमानदार नेता थे, प्रखर विचारक और निर्भीक वक्ता थे। विधानसभा सत्र में डा. मंगल सेन के ओजस्वी भाषणों का उल्लेख राम विलास शर्मा ने किया।
मदवि के कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय डा. मंगल सेन के प्रेरणादायी विचारों तथा उनके समाज कल्याण के दर्शन को विद्यार्थियों तथा पूरे समाज तक ले जाने का सार्थक प्रयास कर रहा है। विश्वविद्यालय के डा. मंगल सेन के जीवन तथा कार्यों पर पुस्तकों का प्रकाशन तथा प्रभावी शोध कार्य किया जा रहा है। कुलपति ने डा. मंगल सेन को नमन करते हुए कहा कि उनके लिए राजनीति समाज सेवा का माध्यम रहा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय भी डा. मंगल सेन के दर्शन तथा विचारों से प्रेरणा लेकर अपने सामाजिक उत्तरदायित्व को पूरा करेगा। डा. राधाकृष्णन सभागार में आयोजित कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन कुलसचिव प्रो. गुलशन लाल तनेजा ने किया। प्रो. तनेजा ने डा. मंगल सेन के लोक कल्याण की नीति व दर्शन को प्रेरणादायी बताया।
इस विशेष कार्यक्रम का संयोजन डा. मंगल सेन शोध पीठ की निदेशिका प्रो. लवलीन ने किया। उन्होंने प्रारंभ में स्वागत भाषण दिया तथा डा.मंगल सेन को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। प्रो. लवलीन ने कहा कि भविष्य में डा. मंगल सेन शोधपीठ के तत्वावधान में विशेष व्याख्यान कार्यक्रम के अलावा सोशल आउटरीच कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। संयोजन सहयोग डा. मंगल सेन पीठ के सलाहकार सोमनाथ शर्मा ने किया। कार्यक्रम में उपस्थित विशिष्ट अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। बेहतरीन मंच संचालन शोधार्थी अभिलाषा ने किया।
इस कार्यक्रम में रोहतक के मेयर मनमोहन गोयल, डा. मंगल सेन के परिवार के सदस्य रणधीर सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष अजय बंसल, रमेश भाटिया, नरेंद्र खट्ïटर, धर्मबीर शर्मा, सतीश कत्याल, रामचेत तायल, अनीता मिगलानी, डा. मंगल सेन से जुड़े रोहतक के अनेक गणमान्य नागरिक, विश्वविद्यालय के संकाय के अधिष्ठाता, विभागाध्यक्ष, प्राध्यापकगण, मदवि गैर शिक्षक कर्मचारी संघ प्रधान रणधीर सिंह कटारिया, मदवि गैर शिक्षक कर्मी, विवि के शोधार्थी-विद्यार्थी समेत रोहतक के आम नागरिक शामिल हुए।
फोटो : 001 से 006
0 0 0 0 0 0 0 0 0 0 0








Source

Leave a Comment