शिक्षा देने के साथ-साथ विद्यार्थियों को कौशल शिक्षा में भी करें पारंगत: राज्यपाल…


शिक्षा देने के साथ-साथ विद्यार्थियों को कौशल शिक्षा में भी करें पारंगत: राज्यपाल

राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने शिक्षाविदों का आह्वान किया कि वे विद्यार्थियों को शिक्षा देने के साथ-साथ स्थानीय आवश्यकताओं के अनुसार कौशल शिक्षा में पारंगत करें। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि युवाओं के पास कौशल और निपुणता होगी तो उन्हें रोजगार की समस्या नहीं रहेगी। उन्होंने यह बात आज इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय, मीरपुर, रेवाड़ी में आजादी के अमृत महोत्सव का शुभारंभ करने के उपरांत शिक्षकों व विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कही।

राज्यपाल ने कहा कि विद्यार्थी इस परिसर से शिक्षा प्राप्त कर अपने आगामी जीवन में प्रवेश करेंगे। शिक्षा का उद्देश्य नौकरी हासिल करना नहीं बल्कि अपने कौशल से नए आइडिया पर काम करते हुए क्षेत्र व देश के विकास में योगदान देना है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने इसी उद्देश्य को लेकर स्टार्ट अप इंडिया, मेक इन इंडिया व स्किल इंडिया जैसे कार्यक्रम आरंभ किए। युवाओं को खुले मन व विचार से जीवन में आगे बढ़ना चाहिए और नए-नए विषयों का यहां से ज्ञान प्राप्त कर अपने संस्थान के प्रति जीवनभर कृतज्ञ रहना चाहिए।

राज्यपाल ने इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय के कुलाधिपति के रूप में सभी विभागाध्यक्षों के साथ विश्वविद्यालय की प्रगति व भविष्य से जुड़े कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने विभागाध्यक्षों को समय-समय पर नवीनतम तकनीक से अपडेट रहने को कहा। शिक्षकों की प्रेरणा से जीवन में आवश्यक परिवर्तन आते हैं। उन्होंने सीमित संसाधनों के बावजूद विश्वविद्यालय की प्रगति पर प्रसन्नता भी जाहिर की। विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ-साथ खेलों के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।

#Haryana #Governor #BandaruDattatreya #DIPRHaryana


Source

Leave a Comment