जीवन में नियम व संयम बनाए रखना आवश्यक – प्र्रतियोगिता में दिव्यांग विद्यार्थियों…


जीवन में नियम व संयम बनाए रखना आवश्यक
– प्र्रतियोगिता में दिव्यांग विद्यार्थियों ने लिया भाग
रोहतक, 19 अक्तूबर : जिला परियोजना अधिकारी कृष्णा फोगाट ने विद्यार्थियों को अपने जीवन में नियम व संयम बनाए रखने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि नारी शक्ति बालिका शिक्षा के ऊपर विशेष जोर दे। स्पेशल ओलंपियाड भारत द्वारा आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में सांपला खंड के दिव्यांग विद्यार्थियों ने भाग लिया है।
कोरोना महामारी को लेकर पेंटिंग छू लो आसमान प्रतियोगिता में नेहा ने दो बार राष्ट्रीय स्तर पर मेडल तथा सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया तथा पुष्पा को विलक्षण प्रतिभा के लिए वर्ष 2021 में लोक नृत्य कला के क्षेत्र में सम्मान मिला। स्पेशल ओलंपिक भारत वर्ष 2020 से राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन कर रहा है जोकि सामाजिक अधिकारिता मंत्रालय के सहयोग से दिव्यांग बच्चों को सामान्य बच्चों के साथ विभिन्न प्रकार के प्रतियोगिताओं में भाग लेने का अवसर दे रहा है। विशेष बात यह है कि नेहा और पुष्पा को राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मिले पुरस्कारों को स्पेशल ओलंपियाड भारत द्वारा ही स्पॉन्सरशिप दी गई है।
नेहा और पुष्पा को छोडक़र बाकी सभी विद्यार्थी सामान्य श्रेणी से थे। इसके अलावा यह एक राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता है, जिसमें नेहा और पुष्पा ने न केवल सांपला को अपितु पूरे हरियाणा प्रदेश को अपने कार्यों द्वारा गौरवान्वित महसूस करवाया है। हमें अपनी छात्राओं पर और उनकी प्रतिभा पर गर्व है। दोनों ने अपने दिव्यांगता जो कि काफी गंभीर स्तर की थी उसकी परवाह न करते हुए अपने मनोबल को ऊंचा रखा और बढ़-चढक़र प्रतियोगिताओं में भाग लिया। जिला परियोजना अधिकारी कृष्णा फोगाट तथा प्राचार्य सुमन हुड्डा द्वारा प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। उन्होंने इस अवसर पर शिक्षा के साथ अन्य क्षेत्रों में भी मेहनत करने के लिए कहा नेहा और पुष्पा को प्रेरित किया।
फोटो : 01 व 02
0 00 00 0 0 0 0 0 0





Source

Leave a Comment