हरियाणा के जन स्वास्थ्य एवं अभियंत्रिकी तथा सिंचाई एवं जल संसाधन विभागों के अतिर…


हरियाणा के जन स्वास्थ्य एवं अभियंत्रिकी तथा सिंचाई एवं जल संसाधन विभागों के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेन्द्र सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे अटल भूजल, जल जीवन मिशन, सूक्ष्म सिंचाई जैसी योजनाओं एवं कार्यक्त्रमों के बारे लोगों को जागरुक करने के लिए एक अभियान चलाएं ताकि राष्टीय जल जीवन मिशन के ‘हर घर नल से जल’ पहुंचाने के लक्ष्य को प्राप्त करने में हरियाणा देश का एक अग्रणीय राज्य बन सके।

श्री देवेन्द्र सिंह आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जल जीवन मिशन के तहत विभिन्न राज्यों के ग्रामीण क्षेत्रों में बनाई गई पानी समितियों के साथ किए गए वर्चुअली संवाद में हरियाणा की ओर से उपस्थित थे।

उन्होंने कहा कि विज्ञान के विद्यार्थियों को पानी के गुणवत्ता परीक्षण के लिए प्रेरित किया जाए तथा पानी के नियमित सैंपल लिए जाएं । उन्होंने कहा कि हरियाणा तालाब प्राधिकरण द्वारा भी प्रदेश के तालाबों के पानी को उपचारित कर अन्य कार्यों के लिए उपयोग किए जाने की योजनाए बनाई जा रही हैं। जल जीवन से जुड़ी सभी योजनाओं व कार्यक्त्रमों को समेकित किया जाए तो बेहतर परिणाम मिल सकते हैं । उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आज लांच किए गए जल जीवन मिशन मोबाइल ऐप को विभाग के पोर्टल पर अपलोड करें ताकि अधिक से अधिक जानकारी इस मिशन के तहत प्राप्त की जा सके। श्री देवेन्द्र सिंह कहा कि लोगों को इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि अटल भूजल योजना क्या है और इसके तहत किन-किन कार्यक्त्रमों को शमिल किया गया है।

इस अवसर पर जल शक्ति मंत्रालय द्वारा तैयार जल जीवन मिशन पर एक डॉक्यूमेन्टरी फिल्म दिखाई गई। केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने अपने स्वागतीय भाषण में जल जीवन मिशन के महत्व पर विस्तार से जानकारी ली। इस अवसर पर जल शक्ति राज्यमंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल व श्री बिश्वेश्वर टुडु, केंद्रीय सचिव श्री पकंज कुमार तथा जल जीवन मिशन, निदेशक श्री भरत लाल भी उपस्थित थे। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के साथ वर्चुअली बैठक में विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री, मंत्री व वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।




Source

Leave a Comment