छोटे बच्चों के जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने का होगा कार्य :- उपायुक्त कैप्टन मनोज कुम…


छोटे बच्चों के जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने का होगा कार्य :- उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार
– चैलेंज के तहत देश के 25 शहरों में राहगिरी का होगा आयोजन
– 3 अक्तूबर को आयोजित होगी राहगिरी
रोहतक, 1 अक्टूबर : उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा है कि नर्चरिंग नेबरहुड चैलेंज के अंतर्गत 3 अक्टूबर को राहगिरी कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नगर वासियों के लिए यह गौरव की बात है कि रोहतक देश के उन 25 शहरों में से एक है, जिन्हें चैलेंज के तहत चुना गया है। कार्यक्रम के तहत इन शहरों के बच्चों, उनकी देखभाल करने वालों और परिवारों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह चैलेंज 3 वर्ष का कार्यक्रम है और इसका उद्देश्य सरकार के स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत बचपन अनुकूल पड़ोस को समर्थन देना है।
नर्चरिंग नेबरहुड चैलेंज के उद्देश्य के बारे में उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि भारत सरकार सभी कमजोर नागरिकों विशेषकर छोटे बच्चों के लिए शहरी क्षेत्रों में अवसरों को बढ़ाने के लिए संकल्पबद्घ है। चैलेंज का लक्ष्य भारतीय शहरों के नियोजन और प्रबंधन में बच्चों के विकास (0-5 वर्ष) के बच्चों पर ध्यान केंद्रित करना है। उपायुक्त ने कहा कि 3 वर्ष के इस कार्यक्रम के तहत चयनित शहर अपने प्रस्ताव, तैयारी तथा अपने संकल्प के आधार पर तकनीकी सहायता और क्षमता सर्जन सहायता प्राप्त करेंगे ताकि छोटे बच्चों के जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने में विकास और समाधान योग्य कार्य किए जा सके।
कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि इसी उद्देश्य को लेकर रोहतक में 3 अक्टूबर को प्रात: 7 से 10 बजे तक मॉडल टाउन स्थित चार खंबा रोड पर राहगीरी कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह राहगिरी कार्यक्रम सभी चयनित देश के 25 शहरों में आयोजित होगा। रोहतक हरियाणा का एकमात्र ऐसा शहर है जिसे देश के 25 शहरों में इस कार्य के लिए चुना गया है।
फोटो : 08
0 0 0 0 0 0 0 0 0 0





Source

Leave a Comment