75 दिन बाद आज से गुड़गांव-फरीदाबाद को छोड़ बाकी जिलों में मॉल-मंदिर खुलेंगे, दिल्ली खोलेगा अपने बॉर्डर

  • दूसरे हफ्ते में आर्थिक गतिविधियां बढ़ेंगी, धार्मिक गतिविधियां शुरू होंगी
  • होटल-रेस्तरां सभी जिलों में खुल सकेंगे, कंटेनमेंट जोन में कोई छूट नहीं

राजधानी हरियाणा. देश में अनलॉक-1 के सात दिन गुजर चुके हैं। सोमवार को 75 दिन बाद होटल, रेस्तरां, शॉपिंग सेंटर समेत कई आर्थिक गतिविधियों के साथ धार्मिक गतिविधियां भी शुरू हो जाएंगी। केंद्र की गाइडलाइन मिलने के बाद हरियाणा ने गुड़गांव-फरीदाबाद को छोड़कर बाकी जिलों में शॉपिंग मॉल व धार्मिक गतिविधियां शुरू करने का फैसला किया है। होटल व रेस्तरां सभी जिलों में खुल सकेंगे। हालांकि, जिले के डीसी को हालात के अनुसार निर्णय लेने की जिम्मेदारी दी गई है।

कंटेनमेंट जोन में 30 जून तक लॉकडाउन ही रहेगा। वहां सिर्फ आवश्यक सेवाओं को छोड़कर बाकी सभी प्रकार की गतिविधियों पर रोक रहेगी। प्रदेश में अभी 649 कंटेनमेंट जोन हैं। दिल्ली, गुजरात समेत 16 अन्य राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों में भी कंटेनमेंट जोन के बाहर मॉल शुरू होंगे। केरल में मॉल मंगलवार से खुलेंगे। 8 राज्यों ने अभी तय नहीं किया है कि मॉल कब खोलेंगे। 7 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों में इस माह मॉल बंद ही रहेंगे। वहीं, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोमवार से हरियाणा व यूपी की सीमा खोलने का ऐलान किया है। इससे दिल्ली में अंतरराज्यीय आवाजाही शुरू हो सकेगी।

240 से नीचे नहीं चलेगा एसी, मंदिर में घंटी बजाने पर रोक

  • हाेटल: सुबह 9 से रात 8 बजे तक खुलेंगे। आने वालों के लिए मास्क जरूरी। क्षमता के सिर्फ 50% लोग बैठ सकेंगे। बफे सर्विस पर प्रतबंध होगा। डिजिटल पेमेंट हाेगी। कॉन्टैक्टलेस चेक-इन व चेक-आउट की व्यवस्था करनी होगी। बार की अनुमति नहीं होगी। कमरों में रखने से पहले सामान सैनिटाइज किया जाएगा।
  • रेस्तरां: रेस्तरां में बैठकर खाने के बजाय टेक अवे काे बढ़ावा देंगे। हाेम डिलीवरी करने वाला स्टाफ पैकेट दरवाजे पर रखेगा। एंट्री गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था हाेगी। 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालन होगा।
  • धर्मस्थल: बिना मास्क पूजा-स्थल में प्रवेश नहीं मिलेगा। मूर्तियाें-ग्रंथाें को नहीं छुएंगे। घंटियां नहीं बजा सकेंगे। बैठकर पूजा करने के लिए श्रद्धालु अपने घर से ही चटाई लेकर आएंगे। सामूहिक आरती, भजन, सामूहिक सभा और प्रार्थना की अनुमति नहीं रहेगी। प्रसाद, जल छिड़कने पर राेक। राज्य में लंगर या अन्न-दान किया जा सकता है, लेकिन मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी।
  • शॉपिंग माॅल: एसी 24-30 डिग्री, ह्यूमिडिटी 40-70% रखनी होगी। एलिवेटर में लोगों की सीमित संख्या तय करनी होगी। फूड काेर्ट में आधी से ज्यादा सीटाें पर नहीं बैठाया जाएगा। गेमिंग आर्केड, चिल्ड्रन प्ले एरिया और सिनेमा हॉल बंद रहेंगे। मास्क पहनना व सोशल डिस्टेंसिंग रखना अनिवार्य है।
  • बैंक्वेट हॉल: एक समय में अधिकतम 50 मेहमान ही ठहर सकेंगे। मास्क पहनना व सोशल डिस्टेंसिंग व सैनिटाइजर जरूरी।

स्कूल और कॉलेज 15 अगस्त के बाद खुलेंगे, पहले रिजल्ट आएंगे
नई दिल्ली केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि स्कूल और कॉलेजों को अगस्त 2020 के बाद फिर से खोला जाएगा। संभवतः 15 अगस्त के बाद शैक्षणिक संस्थान खुल जाएंगे। पोखरियाल ने एक इंटरव्यू में कहा कि 15 अगस्त तक सभी परीक्षाओं के परिणाम घोषित करने की कोशिश कर रहे हैं। उसके बाद ही स्कूलों काे खाेला जा सकता है। मार्च में लाॅकडाउन लागू हाेने के बाद से स्कूल-काॅलेज बंद कर दिए गए थे। उनमें परीक्षाएं भी राेक दी गई थीं।

बाेर्ड की बाकी परीक्षाएं जुलाई में कराई जाएंगी। सभी नतीजे अगले महीने तक जारी कर दिए जाएंगे। पोखरियाल ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण स्कूल-काॅलेजाें में ऑनलाइन पढ़ाई भी कराई जा रही है। लेकिन कहीं न कहीं छात्रों की पढ़ाई का नुकसान भी हो रहा है। काेराेना के बढ़ते अांकड़ाें काे देखकर देश भर में पालकाें में भी स्कूल खुलने काे लेकर चिंता है। उन्होंने बताया कि सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं की बची हुई परीक्षाओं में छात्रों को उनके स्कूल में ही परीक्षा देने की छूट दे दी है।