डस्टर मालिक की निशानदेही पर सीआईए-2 ने की छापेमारी, सप्लायर गिरफ्तार, शोल काटकर छुपाई हेरोइन भी बरामद

  • नाइजीरियन ने भागने के लिए पुलिस से की हाथापाई

पानीपत. सीआईए-2 ने शनिवार को दिल्ली से हेरोइन नशा का सप्लायर नाइजीरियन युवक जॉॅनी पुत्र गेब्रिल को गिरफ्तार किया हैै। उसने जूते का शोल काटकर 75 ग्राम हेरोइन छुपा रखी थी, जो पुलिस ने बरामद कर ली। यह गिरफ्तारी 4 जून को सिवाह स्थित फौजी ढाबे के पास डस्टर कार में 90 ग्राम हेराेइन के साथ पकड़े गए सूरज उर्फ मोनू पुत्र रघुवीर की निशानदेही पर की गई है। जॉनी को सीआईए ने रविवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे 4 दिन की पुलिस रिमांड पर सौंपा गया।

सीआईए-2 इंचार्ज दीपक कुमार नेे बताया कि 26 वर्षीय जॉनी दिल्ली स्थित द्वारका में किराए पर रह रहा था। वह करीब 5 माह पहले ट्यूरिस्ट वीजा पर इंडिया आया था। आरोपी के बारे में पुलिस ने नाइजीरियन दूतावास को जानकारी दी है। 4 दिन की रिमांड से दौरान पुलिस उससे नशा कारोबार में शामिल आरोपियों के बारे में पूछताछ करेगी। साथ ही यह पता लगाया जाएगा कि वह कितने दिनों के वीजा पर आया था। पुलिस ने आरोपी जॉनी के खिलाफ वीजा का उल्लंघन करने पर फोरनर एक्ट भी लगाया है। वहीं आरोपी सूरज का रिमांड खत्म होने पर उसे सोमवार को जेल भेजा जाएगा। जींद के जलालपुर कलां निवासी सूरज यहां नामुंडा में रहता था।

भागने की कोशिश की
आरोपी सूरज ने पूछताछ में बताया कि वह दिल्ली से हेराेइन लेकर आया है। तब सीआईए शनिवार को उसे लेकर दिल्ली पहुंची। दिल्ली मोहन गार्डन के पास सूरज के बताने पर पुलिस ने जॉनी को पकड़ लिया। पुलिसकर्मी से हाथापाई की और भागने की कोशिश की। पुलिस उसे लेकर पानीपत आ रही थी, आरोपी ने बाथरूम करने के लिए गाड़ी रुकवाई। वह जूते से हेरोइन फेंकने की फिराक में था। पुलिस ने जूते देखे तो शोल में कट लगा था। चेक करने पर शोल के अंदर 75 ग्राम हेरोइन मिली।