कांग्रेस से दो बार बादली के विधायक रह चुके नरेश शर्मा ने ज्वाइन की इनेलो

  • 2019 के विधानसभा चुनाव में भाजपा में हुए थे शामिल
  • इनेलो में आते ही पार्टी ने सौंपी प्रदेश प्रवक्ता की जिम्मेदारी

चंडीगढ़. कांग्रेस पार्टी से 2005 और 2009 में बादली विधानसभा सीट से विधायक रहे नरेश शर्मा सोमवार को चंडीगढ़ में अपने समर्थकों के साथ इंडियन नेशनल लोकदल में शामिल हो गए। इससे पहले 2019 विधानसभा चुनाव में नरेश शर्मा भाजपा में शामिल हुए थे।

सोमवार को चंडीगढ़ में अभय चौटाला की मौजूदगी में नरेश शर्मा ने इनेलो का दामन थाम लिया। इनेलो में में आते ही उन्हें पार्टी का प्रदेश प्रवक्ता बना दिया गया है। अभय ने कहा कि नरेश शर्मा पूर्व विधायक ने दलबल सहित शामिल हुए है। वहीं हरियाणा सरकार को कोसते हुए अभय ने कहा कि हरियाणा की जुगाड़ सरकार से कोई छुटकारा करवा सकता है तो वह इनेलो ही हैं।

पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर साधा निशाना
इनेलो में आते ही पूर्व विधायक नरेश शर्मा ने पूर्व सीएम भूपेन्द्र सिंह हुड्डा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 30 साल एक ऐसे व्यक्ति की मदद की जो तानाशाही करता आया है। नरेश ने कहा कि आज तो अपने घर वापिस लौटा हूं और जीवन भर अभय चौटाला के साथ रहूंगा। हुड्डा ने अपने राज में निजी बिल्डरों को किसानों की जमीन बेच दी। मैंने किसान और मजदूर की लड़ाई लड़ी है और किसान मजदूर की लड़ाई के लिए अभय के साथ जुड़ा हूं।

बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर ये जवाब दिया
बीजेपी छोड़ने की बात पर नरेश शर्मा ने कहा मैंने कभी बीजेपी ज्वाइन नही की थी, बस मंच पर गया था। मैंने चुनाव में ओमप्रकाश धनखड़ की मदद की थी लेकिन भाजपा में शामिल नही हुआ।