वैश्य संस्था विवाद काे हल करवाने उतरी भाजपा

  • महासचिव ने जारी रखी नामांकन प्रक्रिया, स्टेट रजिस्ट्रार को भेजेंगे जवाब

रोहतक. वैश्य शिक्षण संस्था का मामला हररोज उलझता जा रहा है। अब इस विवाद को सुलझाने के लिए भाजपा भी उतर आई है। शुक्रवार देर शाम प्रधान विकास गोयल और महासचिव डॉ. चंद्र गर्ग को बुलाकर भाजपा पदाधिकारियों के बीच गुप्त बैठक की गई। भाजपा प्रदेश कार्यालय में शाम साढ़े 7 बजे यह बैठक हुई, जो करीब साढ़े 9 बजे तक चली। इसमें वैश्य समाज के बुद्धिजीवी व मौजिज लोग भी शामिल हुए। करीब डेढ़ घंटे चली बैठक में पार्टी पदाधिकारियों ने दोनों पक्षों को सुना और उनके बीच मान-मनोव्वल का दौर भी चला। समाज के लोग चाहते हैं कि 17 जुलाई से पहले मामला निपट जाए और संस्था पर प्रशासक बैठाने की नौबत न आए। हालांकि बैठक बेनतीजा रही।

दोनों ही गुट अपनी बातों को सही बताकर एक-दूसरे पर अभी भी आरोप-प्रत्यारोप पर अड़े हुए हैं। बैठक में मुख्य तौर पर भाजपा जिलाध्यक्ष अजय बंसल, आरएसएस से जुड़े देवेंद्र गोयल, सुरेश बंसल, रामचेत तायल, मेयर मनमोहन गोयल, विजय बाबा गुप्ता व विकास गोयल, पवन खरकिया व डॉ. चंद्र गर्ग शामिल हुए। बैठक में तय हुआ कि दोनों पक्षों की ओर से जिलाध्यक्ष को फैसला बता दिया जाएगा। जिला रजिस्ट्रार ऑफ सोसायटी की ओर से नामांकन प्रक्रिया पर स्टे लगाने के बावजूद महासचिव डॉ. चंद्र गर्ग की ओर से प्रक्रिया को जारी रखा गया। शनिवार को महासचिव डाॅ. चंद्र गर्ग की ओर से नामांकन प्रक्रिया को पूरा कर लिया गया है तो वहीं प्रधान विकास गोयल अब 8 जून को गवर्निंग बॉडी की बैठक बुलाने जा रहे हैं।

महासचिव ने चेक व डीडी से ली नामांकन फीस, प्रधान बोले- सोसायटी के खातों में उसी दिन जमा करवानी थी राशि, करेंगे कानूनी कार्रवाई

शेड्यूल जारी करने के 18 दिन बाद प्रक्रिया रोकना गलत : गर्ग
संस्था महासचिव डॉ. चंद्र गर्ग का कहना है कि संस्था में करीब 100 से ज्यादा नामांकन अंतिम दिन तक जमा हुए हैं। डॉ. गर्ग ने बताया कि जिला रजिस्ट्रार सोसायटीज की ओर से लिखे गए पत्र का जवाब स्टेट रजिस्ट्रार को भेजा गया है। वहीं प्रधान ने धमकी दी है कि नामांकन राशि को चंदा बना दिया जाएगा, इसलिए नामांकन राशि को चेक और डीडी के तौर पर लिया गया है। यह राशि हमारे पास है। प्रधान ने पूरा रिकॉर्ड अपने कब्जे में किया हुआ है, इसलिए ऐसा करना पड़ा। जहां तक भाजपा-आरएसएस की बैठक की बात है तो इससे पहले भी भाजपा पदाधिकारियों के साथ बैठक हो चुकी है। रात को करीब डेढ़ घंटे चली इस बैठक में वे समय लेकर गए थे कि हम सुबह बताएंगे, अब तक कोई जवाब नहीं आया।

नामांकन प्रक्रिया नहीं रोकना आदेशों की अवहेलना : गोयल
वैश्य शिक्षण संस्था के प्रधान विकास गोयल ने बताया कि सोसायटी की त्रिवार्षिक चुनावी प्रक्रिया पर जिला रजिस्ट्रार आफ सोसायटीज की ओर से स्थगन आदेश जारी करने के बावजूद महासचिव चन्द्र गर्ग ने कार्यालय में बैठकर सोसायटी सदस्यों से नामांकन भरवाए, जोकि आदेशों की अवमानना है। सोसायटी के संविधान में कॉलेजियम चुनाव नामांकन भरने की फीस 11000 रुपए निर्धारित है। जानकारी के अनुसार महासचिव ने 105 में से लगभग 45 नामांकन पिछले तीन दिनों में भरवाए हैं, लेकिन सिर्फ एक व्यक्ति की नामांकन फीस सोसायटी के खाते में जमा है। बाकी का हिसाब-किताब सोसायटी के पास नहीं है। प्रधान विकास गोयल ने मांग की है कि वित्तीय पारदर्शिता बनाए रखने के लिए चन्द्र गर्ग को नामांकन फीस का हिसाब सोसायटी में देना चाहिए।