दिल्ली की तरह अब गुड़गांव में भी ऑनलाइन एप्लीकेशन से जान सकेंगे कौन से अस्पताल में बेड अवलेबल है

  • कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए आरक्षित किए गए हैं बेड
  • गुड़गांव जिला प्रशासन ने तैयारी की पूरी, जल्द मिलने लगेगी सुविधा
  • गुड़गांव में बढ़ते मरीजों की संख्या के चलते लिया गया फैसला

पानीपत/गुड़गांव. हरियाणा में अनलॉक-1 का सातवां दिन है। मरीजों की संख्या प्रदेशभर में लगातार बढ़ रही है। गुड़गांव और फरीदाबाद में आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। अब गुड़गांव में दिल्ली की तरह लोगों को भी ऑनलाइन एप्लीकेशन के जरिए जिले में कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए कौन से अस्पताल और वहां कितने बेड आरक्षित किए गए हैं, इसकी जानकारी घर बैठे ही जल्द मिलना शुरू हो जाएगी।

गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) और जिला प्रशासन ने मिलकर वन मैप गुरुग्राम एप्लीकेशन पर यह जानकारी देने का विकल्प जोड़ने की तैयारी पूरी कर ली है। अधिकारियों के मुताबिक अगले सप्ताह तक एप्लीकेशन को अपग्रेड कर दिया जाएगा। इसके बाद लोगों को यह जानकारी मिलनी शुरू हो जाएगी।

इसके अलावा एप्लीकेशन पर प्रशासन की ओर से निर्धारित किए गए पेड क्वारैंटाइन वाले होटल और सरकारी क्वारैंटाइन सेंटर की भी जानकारी उपलब्ध होगी। अस्पतालों और बेड की जानकारी ऑनलाइन एप पर मिलने के बाद इसमें पारदर्शिता आएगी। गुड़गांव के सपंदा अधिकारी विवेक कालिया का कहना है कि लोगों की सहूलियत के लिए वन मैप गुरुग्राम एप्लीकेशन पर निजी अस्पतालों के नाम पर आरक्षित बेड की जानकारी मिलनी शुरू हो जाएगी। मरीजों को भर्ती होने में सुविधा मिलेगी।

फरीदाबाद में कोविड अस्पताल फुल, अब 28 फीसदी मरीजों का इलाज घर से चल रहा
फरीदाबाद में लगातार बढ़ते मामलों की वजह से यहां बनाया गया कोविड अस्पताल फुल हो गया है। जिला प्रशासन ने उपचार के लिहाज से कई बदलाव करने शुरू कर दिए हैं। इसमें गंभीर रूप से बीमार मरीजों को ही अस्पताल में दाखिल करने और कम लक्षण वालों का घर पर उपचार करना मुख्य है। इसमें 665 मरीजों में से 189 कोरोना के मरीजों यानी 28 फीसदी को घर पर ही आइसोलेट कर दिया है और 226 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। स्वास्थ्य विभाग ने घर में आइसोलेशन हुए मरीजों से विशेषतौर पर सावधानी बरतने की अपील की गई है। ताकि रोग से बचाव हो सके।

प्रदेश में जिलेवार ये है कुल मरीजों की स्थिति

  • फिलहाल प्रदेश में यूएसए से लौटे 21 लोगों, 14 इटली नागिरकों व 133 जमातियों को मिलाकर संक्रमितों का आंकड़ा 3952 पर पहुंच गया है। इनमें सबसे ज्यादा गुरुग्राम में 1692, फरीदाबाद में 620, सोनीपत में 350, झज्जर में 107, रोहतक में 137, पलवल में 119, करनाल में 91, नूंह में 85, हिसार में 82, अंबाला में 80, नारनौल में 77, पानीपत में 72, भिवानी में 57, सिरसा व कुरुक्षेत्र 50-50, रेवाड़ी में 45, कैथल में 43, जींद व फतेहाबाद में 38-38, चरखी-दादरी में 35, पंचकूला में 28 तथा यमुनानगर में 19 संक्रमित मरीज हैं।
  • वहीं 14 इटली नागरिकों सहित कोरोना को मात देने वालों का आंकड़ा 1280 हो गया है। इनमें गुरुग्राम में 343, फरीदाबाद में 183, सोनीपत में 164, झज्जर में 96, नूंह में 66, पानीपत में 51, पलवल 48, अंबाला में 47, करनाल में 40, नारनौल में 33, पंचकूला व जींद में 26-26, कुरुक्षेत्र में 25, हिसार में 22, सिरसा में 35, रेवाड़ी में 12, यमुनानगर-फतेहाबाद में 9-9, रोहतक में 15, फतेहाबाद में 8, कैथल में 7, भिवानी में 6 तथा चरखी-दादरी में 1 मरीज ठीक होकर घर लौट चुका है।