बहादुरगढ़: 35 दिन बाद खुली सब्जी मंडी, ये बनाए गए हैं नियम

अनलॉक-1 में बाजारों के साथ अब 35 दिन से बंद सब्जी मंडी को भी खोल दिया गया है। बृहस्पतिवार को सब्जी मंडी में करियाणा की दुकानें खुल गई हैं। आढ़ती व मासाखोरों की ओर से अभी सब्जी व फल की बिक्री व खरीद का काम नहीं किया गया। शुक्रवार से यह काम शुरू होने की उम्मीद है। व्यापारियों को इसके लिए आर्डर भी दे दिया गया है। सब्जी मंडी को फिलहाल ऑड-ईवन व्यवस्था पर खोला गया है। आधी दुकानें एक दिन खुलेंगी और आधी दूसरे दिन। मंडी में किसानों की सब्जी खरीदने का समय सुबह चार से पांच तथा उसके बाद मासाखोरों व आढ़तियों के लिए सुबह पांच से 10 बजे तक सब्जी बिक्री का रखा गया है। आमजन के लिए फिलहाल मंडी नहीं खोली गई है। मासाखोर भी मंडी में दुकान सजाकर सब्जियां व फल नहीं बेच सकेंगे। वे मंडी से सब्जी व फल खरीदकर कालोनियों में घर-घर जाकर इसकी बिक्री कर सकेंगे।

वहीं, मंडी खुलते ही पुलिसकर्मियों ने नियमों के पालन की कड़ी हिदायत दी है। पुलिसकर्मियों का कहना था कि अगर नियमों का पालन नहीं हुआ तो संबंधित दुकानदार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मंडी में सिर्फ पास धारक दुकानदार ही दुकानें खोल सकेंगे। अब तक मार्केट कमेटी की ओर से करीब 150 पास बनाए गए हैं। गौरतलब है कि बहादुरगढ़ में सबसे ज्यादा केस सब्जी मंडी से ही संबंधित थे। पूरे जिले में करीब 69 केस सब्जी मंडी से ही जुड़े हुए थे। इसीलिए मंडी को कंटेनमेंट जोन बनाया गया था और इतनी लंबी अवधि के बाद अब खोला गया है। 29 अप्रैल को एक साथ सब्जी मंडी से संबंधित नौ केस आने की वजह से 30 अप्रैल को इसे बंद कर दिया गया था। उधर, मंडी खुलने के पहले दिन आढ़तियों ने अपनी दुकानों में साफ-सफाई की। साथ ही दुकानों को सैनिटाइज भी करवाया। मंडी खोले जाने को लेकर आढ़तियों, सब्जी व फल विक्रेताओं के अलावा मासाखोरों ने कई बार अधिकारियों के समक्ष आवाज उठाई थी।

करियाणा दुकानदारों ने जताया रोष, बोले डीसी के सामने रखेंगे पक्ष
सब्जी मंडी को ऑड-ईवन व्यवस्था पर खोलने के नियम का करियाणा दुकानदारों ने विरोध किया है। पुलिस की ओर से नियमों का पालन करने की जब हिदायत दी जा रही थी तो उस समय दुकानदारों ने कड़ा रोष जताया। दुकानदार महेंद्र खुराना, निवेश मित्तल, सुमित, ईश्वर गर्ग, अजय शर्मा, ताराचंद आदि ने बताया कि अगर ऑड-ईवन नियम लागू हुआ तो मंडी में सिर्फ 13 दिन ही दुकानें खुल पाएंगी। ऐसे में उन्हें काफी नुकसान का सामना करना पड़ेगा। वे कुछ भी नहीं कमा पाएंगे। यह किरियाणा दुकानदारों के साथ सरासर अन्याय है। वे इसका विरोध करते हैं और जल्द ही बहादुरगढ़ करियाणा एसोसिएशन के प्रधान रामेहर सिंह के नेतृत्व में डीसी से मिलकर उनके सामने अपना पक्ष रखेंगे।

ये बनाए गए हैं नियम

  • सब्जी मंडी आढ़तियों, दुकानदारों और रिटेलर के लिए ही खोली गई है।
  • जिन दुकानदार, आढ़तियों व रिटेलरों को मार्केट कमेटी की ओर से पास जारी किए गए हैं उनकी मंडी में इंट्री होगी।
  • आम जनता को अभी मंडी में प्रवेश नहीं मिलेगा।
  • सब्जी मंडी में केवल आढ़ती, बूथ धारक, रेहड़ी वाले जिनके पास मार्केट कमेटी द्वारा जारी किए गए हैं, वहीं मंडी में प्रवेश करेंगे।
  • मास्क लगाना व सैनिटाइजर का प्रयोग करना जरूरी है।
  • आजादपुर मंडी व व नूंह से कोई भी फल-सब्जी नहीं मंगवानी है।
  • अगर कोई इन जगहों से फल या सब्जी मंगवाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।
  • नई सब्जी मंडी में किसान की फल-सब्जी बिक्री का समय सुबह 4 से 5 बजे तक है।
  • मंडी खुलने का समय सुबह 5 से 10 बजे तक निर्धारित किया गया है।
  • सभी आढ़तियों द्वारा माल अपने प्लेटफार्म पर ही उतारा जाएगा।
  • 65 वर्ष से ज्यादा व 10 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति की मंडी एंट्री नहीं होगी।
  • किसी भी उम्र का व्यक्ति जिसको क्रॉनिक बीमारी है, वह भी मंडी में क्रय-विक्रय के लिए प्रवेश नहीं करेगा।

ऑड ईवन के अनुसार दुकान खोलने के आदेश दिए गए हैं। सब्जी मंडी खोल दी गई है। आमजन का प्रवेश अभी बंद रहेगा। मासाखोरों के लिए मंडी में ही दुकानें चलाने की भी फिलहाल अनुमतति नहीं होगी। ऑड-ईवन व्यवस्था के तहत दुकानें खोलने के निर्देश दिए गए हैं। अगर कोई इन नियमों को पालन नहीं करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
-उमेश दांगी, सचिव, मार्केट कमेटी।