कोरोना से कर्ण बिहार के व्यक्ति की मौत, 5 और पॉजिटिव आए, सभी की बाहर की हिस्ट्री

  • करनाल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है, प्रतिदिन नए केस आ रहे हैं

करनाल. करनाल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। प्रतिदिन नए केस आ रहे हैं। गुरुवार को भी पांच नए केस पॉजिटिव पाए गए। इनमें से प्रीतम शर्मा 49 की मौत हो गई। इसके अलावा नीलोखेड़ी, घरौंडा, श्याम नगर करनाल और अर्जुन गेट करनाल में एक-एक मरीज मिला है। सभी की ट्रैवल हिस्ट्री बाहर की बताई जाती है।

कर्ण बिहार का प्रीतम शर्मा बहादुरगढ़ में जूतों की फैक्ट्री में काम करता था। वह हर रविवार को घर आता था। 30 जून को उसे हल्का बुखार और खांसी की शिकायत हुई, लेकिन वह दवाई लेकर वापस बहादुरगढ़ चला गया। इसके बाद आरपीआईआईटी बसताड़ा अस्पताल में दाखिल कराया गया। इसके बाद वहां से अमृतधारा अस्पताल में दाखिल करवाया। वहां पर ज्यादा तबीयत खराब हो गई। इसके बाद रात को कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया गया। कोरोना का सैंपल लिया गया।

इलाज के दौरान ही रात को मौत हो गई। सुबह कोरोना का सैंपल पॉजिटिव आया। इसके अलावा श्याम नगर का विनोद पॉजिटिव पाया गया है। यह दिल्ली गया था और तीन जून को वापस लौटा था। टेस्ट करवाने पर पॉजिटिव मिला। अर्जुन गेट का पीयूष जैन भी कोरोना का पॉजिटिव मिला है। 3 जून को गुडगांव से आया था। सुबह रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

मृतक की केस हिस्ट्री : कर्ण बिहार का प्रीतम शर्मा बहादुरगढ़ में जूतों की फैक्ट्री में काम करता था, 30 जून को उसे हल्का बुखार और खांसी की शिकायत हुई। इसके बाद आरपीआईआईटी बसताड़ा अस्पताल में दाखिल किया। इसके बाद वहां से अमृतधारा में ले गए। तबीयत ज्यादा खराब होने पर रात को कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में दाखिल किया, जहां रात को ही उसकी मौत हो गई। रात को जो सैंपल लिया था सुबह उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

मेडिकल कॉलेज में पॉजिटिव मरीज प्रीतम शर्मा डाॅक्टर, नर्स सहित चार कर्मचारियों के संपर्क में आया, इन सभी को होम क्वारेंटाइन कर दिया है। इसके अलावा अमृतधारा अस्पताल में भी इलाज के दौरान कई लोगों के संपर्क में आया। वहां स्टाफ का भी सैंपल लिया जाएगा। आरपीआईआईटी अस्पताल के डाॅक्टर और नर्सों के संपर्क में आया। इस तरह चैन लंबी हो सकती है। इन सभी को होम क्वारेंटाइन कर दिया है।

कोरोना के 174 संदिग्धों की आज आएगी जांच रिपोर्ट : सिविल सर्जन डाॅ. अश्विनी आहुजा ने बताया कि कोरोना संदिग्ध कुल 8576 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए। इनमें से 8324 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि 174 की रिपोर्ट आना शेष है। कोविड-19 की स्थिति के बारे में विस्तार से बताया कि जिला में अब तक 455 व्यक्ति 0 से 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर चुके हैं तथा 880 व्यक्ति अभी सर्विलांस में हैं।

मृतक की केस हिस्ट्री : कर्ण बिहार का प्रीतम शर्मा बहादुरगढ़ में जूतों की फैक्ट्री में काम करता था, 30 जून को उसे हल्का बुखार और खांसी की शिकायत हुई। इसके बाद आरपीआईआईटी बसताड़ा अस्पताल में दाखिल किया। इसके बाद वहां से अमृतधारा में ले गए। तबीयत ज्यादा खराब होने पर रात को कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में दाखिल किया, जहां रात को ही उसकी मौत हो गई। रात को जो सैंपल लिया था सुबह उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

नीलोखेड़ी : 26 वर्षीय युवक मिला संक्रमित, दिल्ली की एक निजी कंपनी में करता है नौकरी

26 वर्षीय युवक नीलोखेड़ी में पहला काेरोना पॉजिटिव पाया गया। इसकी हिस्ट्री दिल्ली की बताई जा रही है। बुधवार को वह घर न आकर सीधा करनाल के कल्पना चावला अस्पताल में जा कर अपनी टेस्ट करवाया जिसकी गुरुवार को सुबह पॉजिटिव रिपोर्ट आई। नीलनगर के निरंकारी भवन के समीप रहने वाले उसके भाई आशीष ने बताया कि उसका भाई दिल्ली की एक निजी कंपनी में काम करता है। कुछ दिन पहले कंपनी ने उसे काम पर बुला लिया था, लेकिन मंगलवार को उसकी तबीयत खराब होने लगी तो उसने नीलोखेड़ी फोन करके अपने परिवार को जानकारी दी।

घरौंडा : वार्ड नंबर 17 में मिला पॉजिटिव व्यक्ति सोनीपत में करता है जॉब, रोज अप-डाउन करता है

घरौंडा के वार्ड-7 की बालाजी काॅलोनी में एक व्यक्ति को कोरोना संक्रमण पाया गया है। पीड़ित सोनीपत के बहालगढ़ की मेट्रीफाई कंपनी में बतौर इंजीनियर कार्य करता था और अपनी मोटरसाइकिल के जरिए प्रतिदिन सोनीपत से घरौंडा आवागमन करता था। कोरोना केस मिलने के बाद स्थानीय प्रशासन हरकत में आ गया है। दो गलियों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। परिवार के बाकी सदस्यों को घर में क्वारेंटाइन कर दिया है। पीड़ित मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। पनौड़ी रोड पर स्थित बालाजी काॅलोनी निवासी विशाल शर्मा (29 वर्ष) पुत्र सुरेंद्र शर्मा सोनीपत के बहालगढ़ की मैट्रीफाई कंपनी में इंजीनियर है।

विशाल अपनी मोटरसाइकिल से प्रतिदिन कंपनी में आवागमन करता था। बुधवार को विशाल ने करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में अपना कोरोना टेस्ट करवाया था। गुरुवार को इसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। घरौंडा शहर का यह पहला केस है। जिसके बाद स्थानीय प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है। ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार रमेश अरोड़ा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मुनेश गोयल व अन्य विभागीय कर्मचारी बाला जी कॉलोनी पहुंचे।