उचाना कलां अंडरपास को जाने वाले रास्ते को पक्का करने का काम रुकने से बढ़ी परेशानी

जींद. उचाना कलां से अंडरपास को जाने वाले कच्चे रास्ते की जगह पक्का रास्ता बनाने के लिए पीडब्ल्यूडी द्वारा शुरू किया गया कार्य कई महीनों से रुका हुआ है। यहां पर रास्ता को पक्का करने के लिए मिट्टी भी डाली दी गई है लेकिन एक बार कार्य बंद होने के बाद अब तक शुरू नहीं हुआ है।

रुके हुए कार्य को शुरू करने की मांग वाहन चालक, किसान कर चुके हैं। अब बारिश के बाद पूरे रास्ते में कीचड़ होने के चलते खेतों में जाने वाले किसानों,सतबीर, राजेंद्र, रामकुमार, बलवान ने कहा कि मानव रहित फाटक की जगह रेलवे ने अंडरपास बनाया है। अंडरपास से लेकर उचाना कलां तक पक्का रास्ते बनाने के लिए पीडब्ल्यूडी द्वारा कार्य शुरू किया गया है। अंडरपास बनने के बाद यहां से ही वाहन चालक फाटक पर जाम से बचने के लिए आते-जाते है। बारिश के दौरान यहां पर कीचड़ होने से वाहन चालकों को आना-जाना मुश्किल हो जाता है। कई महीनों से यहां पर कार्य रुका हुआ है।

सड़क की चौड़ाई बढ़ाने की अप्रूवल के लिए भेजा है
अंडरपास को रास्ता पक्का करना है उसकी चौड़ाई बढ़ाने, तारकोल की सड़क बनाने की मांग उचाना कलां के लोगों ने की थी। इसको लेकर एस्टीमेट बनाकर हेड ऑफिस भेजा है। अप्रूवल मिलते ही काम शुरू करवा दिया जाएगा। पहले इसकी चौड़ाई 12 फीट थी अब 18 फीट की सड़क बनेंगी। पहले पेविंग ब्रिक्स से बननी थी अब तारकोल से बनाया जाएगा। -लोकेश डागर, एसडीओ, पीडब्ल्यूडी, उचाना।