76 लाख रुपए की मशीन अब शहर को रखेगी साफ

नारनौल. नारनौल शहर को साफ रखने के लिए नगर परिषद ने 76 लाख रुपए की लागत वाली मैकेनिकल रोड स्वीपिंग झाड़ू मशीन को लगा दिया है। मशीन की विशेषता यह ह कि यह जहां से गुजरेगी, वहां की जमीन को धूल रहित कर देगी। इसके सफाई अभियान की टीम में शामिल हो जाने से अब शहर को लोगों को उडने वाली धूल से निजात मिल जाएगी।

प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने बुधवार सुबह हुडा सैक्टर के मेन गेट से हरी झंडी दिखाकर इस मशीन को रवाना किया। उनके साथ नगर परिषद की चेयरपर्सन भारती सैनी व अनेक नगर पार्षद भी मौजूद रहे। इस मौके पर मंत्री ने कहा कि शहर की सफाई में यह मशीन बहुत ही कारगर साबित होगी।

यह मशीन जीपीएस व कैमरे से लैस आधुनिक मशीन है जो 10 से 12 घंटे रोजाना काम कर सकती है। यह मशीन 1 दिन में 30 किलोमीटर मेन सड़क की साफ-सफाई कर सकती है तथा इसमें 3 टन कूड़ा एकत्र करने की क्षमता है। उन्होंने बताया कि एक ऑपरेटर और एक हेल्पर की मदद से इस मशीन को चलाया जा सकता है । 70 से 80 लोगों द्वारा एक महीने में किए जाने वाले कार्य को इस मशीन से एक ऑपरेटर और हेल्पर से किया जा सकता हैं। उन्होंने कहा कि यह मशीन शहर के मेन सड़कों की सफाई करेगी, जबकि तंग गलियों व अन्य जगहों पर सफाई का काम नगर परिषद के कर्मचारियों के जिम्मे रहेगा।

इस मौके पर नगर परिषद चेयरमैन भारती सैनी ने कहा कि मंत्री ओमप्रकाश यादव के सहयोग से नारनौल शहर को एक साफ -सुथरा शहर रखा जा रहा है। नारनौल शहर की गिनती एक साफ-सुथरे शहरों में होती है। उन्होंने कहा कि नारनौल की सफाई का लगातार ध्यान रखा जा रहा है, इस मशीन के आ जाने से शहर की सफाई व्यवस्था बनाए रखने में और अधिक आसानी रहेगी। इस मौके पर कार्यकारी अधिकारी अभयसिंह यादव, चीफ सेनेटरी इंस्पेक्टर विजय शर्मा, प्रवीण कुमार, एमई सोहनलाल, कंपनी के प्रतिनिधि पंकज कुमार, समाजसेवी संजय सैनी, नगर पार्षद महेंद्र गौड़, सरला यादव, मोहन लाल शर्मा, किशन बोहरा, सुंदर लेफ्टी, कपिल यादव, किशन यादव, हंसराज चौहान, कृष्ण यादव उपस्थित थे।