दिल्ली बॉर्डर पर अभी भी दिल्ली पुलिस की रोक, फरीदाबाद में सभी अस्पतालों के 25 फीसदी बैड कोरोना के लिए रिजर्व

  • फरीदाबाद में कोरोना के बढ़ते मरीजों के चलते लिया गया फैसला
  • हरियाणा में 3 हजार के पास पहुंची कुल कोरोना मरीजों की संख्या

पानीपत. हरियाणा में अनलॉक-1 का चौथा दिन है। दिल्ली से सटी हरियाणा की सीमाओं पर दिल्ली पुलिस की रोकटोक जारी है। दिल्ली पुलिस अब भी सिर्फ मूवमेंट पास और आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही एंट्री दे रही है। प्रदेश में मरीजों की संख्या 3 हजार के पास पहुंच गई है। फरीदाबाद में बढ़ते मरीजों की वजह से 25 फीसदी बैड कोरोना के लिए रिजर्व कर दिए गए हैं। इसी तरही होटलों को भी कोरोना केयर में तबदील किया जाएगा। मरीजों की देखभाल के लिए स्टाफ की नियुक्ति की जाएगी। यह फैसला फरीदाबाद के मंडलायुक्त संजय जून की समीक्षात्मक बैठक में लिया गया है।

बिना लक्षण वाले मरीजों का घर से किया जाएगा उपचार
फरीदाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अगर अधिक होती है तो अस्पतालों में बेड की संख्या, अॉक्सीजन सिलेंडर का प्रबंध भी किया जाएगा। मरीज की अवस्था गंभीर होने पर ही उसे अस्पताल में दाखिल किया जाएगा। जिस मरीज में लक्षण नहीं हैं, उसे घर पर ही आइसोलेट किया जाएगा। उसे दवाई के साथ-साथ सावधानी बरतनी है।

दिल्ली-गुड़गांव बॉर्डर पर एक कार चालक को रोकते हुए पुलिसकर्मी।

फरीदाबाद जिला प्रशासन ने प्राइवेट अस्पतालों से की अपील
फरीदाबाद के आयुक्त यश गर्ग व उपायुक्त यशपाल ने कोरोना की लड़ाई में प्राइवेट अस्पतालों को भी आगे आकर अपनी हरसंभव तैयारी करने की अपील की है। उन्होंनेसभी अस्पताल अपने बेड और अन्य जरुरी सुविधाओं के बारे में जानकारी ली।

हरियाणा में मरीजों का आंकड़ा 2954 पहुंचा

  • फिलहाल प्रदेश में यूएसए से लौटे 21 लोगों, 14 इटली नागिरकों व 133 जमातियों को मिलाकर संक्रमितों का आंकड़ा 2954 पर पहुंच गया है। इनमें सबसे ज्यादा गुरुग्राम में 1195, फरीदाबाद में 487, सोनीपत में 261, झज्जर में 103, रोहतक में 97, पलवल में 79, नूंह में 78, नारनौल में 70, अंबाला में 69, करनाल में 66, पानीपत में 65, हिसार में 61, सिरसा में 47, भिवानी में 45, कुरुक्षेत्र में 37, जींद में 32, कैथल में 30, पंचकूला में 27, फतेहाबाद में 25, रेवाड़ी में 23, चरखी-दादरी में 13 तथा यमुनानगर में 9 संक्रमित मरीज हैं।
  • वहीं 14 इटली नागरिकों सहित कोरोना को मात देने वालों का आंकड़ा 940 हो गया है। इनमें गुरुग्राम में 288, फरीदाबाद में 168, सोनीपत में 158, झज्जर में 92, नूंह में 66, पानीपत में 46, अंबाला में 40, पलवल 44, पंचकूला में 26, जींद में 24, नारनौल में 21, कुरुक्षेत्र में 18, करनाल में 16, सिरसा में 13, यमुनानगर में 9, रोहतक में 10, भिवानी व फतेहाबाद में 7-7, कैथल 6, हिसार में 5, रेवाड़ी में 4 तथा चरखी-दादरी में 1 मरीज ठीक होकर घर लौट चुका है।