ओला कैब लूटने के मामले में एक ओर आरोपी गिरफ्तार, तीन पहले पकड़े गए

  • जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद था आरोपी, पुलिस ने लिया रिमांड पर

रेवाड़ी. सीआईए की टीम ने अगस्त 2019 में खोल क्षेत्र से ओला कैब लूटने के मामले में एक ओर आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान राजस्थान के जोधपुर निवासी सहीराम बिश्नोई के रूप में हुई है।

सहीराम फिलहाल जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद था। उसे रेवाड़ी सीआईए पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट पर लेकर तीन दिन के रिमांड पर लिया है। कार लूटने वाले बदमाशों ने सहीराम को ही लूटी हुई कार बेची थी। रिमांड के दौरान आरोपी से पुलिस लूटी हुई कार बरामद करने का प्रयास करेगी।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि यूपी के इटावा निवासी जयबीर सिंह ने अपनी स्विफ्ट डिजायर गाड़ी दिल्ली में ओला कंपनी में लगाई हुई थी। वह गाजियाबाद में रह रहा था। 3 अगस्त 2019 की सुबह ओला एप पर एक नंबर के जरिए दिल्ली के वजीराबाद से महेन्द्रगढ़ तक के लिए गाड़ी को बुक किया गया था जिसके बाद बताए गए स्थान पर जयबीर कार लेकर पहुंच गया। दिल्ली से दो युवक कार में महेंद्रगढ़ के लिए सवार हुए थे।सुबह के समय खोल थाना एरिया में पहुंचने के बाद कार में सवार दोनों बदमाश लघुशंका का बहाना बनाकर गाड़ी से उतर गए और इसी दौरान पीछे से आई एक दूसरी कार में सवार बदमाशों के साथ मिलकर उन्होंने जयबीर को अपहरण करके उसे कार में डाल लिया। बदमाश राजस्थान में सालासर के पास उसे दोपहर के समय चलती कार से फेंककर फरार हो गए थे।

इस मामले में राजस्थान के सीकर थाना में जीरो एफआईआर दर्ज हुई थी जिसे बाद में उसे खोल थाना में भेज दिया गया था। एसपी ने मामले की जांच सीआईए को सौंपी था। सीआईए की टीम ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।

उनसे पूछताछ में सहीराम नाम कार खरीदने वालों में आया जिसके बाद जांच आगे बढ़ाई तो तो पता चला कि सहीराम जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद है। इसके बाद सीआईए की टीम ने उसे प्रोडक्शन वारंट पर लाने की कार्रवाई शुरू की। पुलिस ने अब उसे प्रोडक्शन वारंट पर लेकर तीन दिन के रिमांड पर लिया है।