5 साल का बच्चा भी संक्रमित, जब मां उसे एंबुलेंस तक छोड़कर जाने लगी तो फूट-फूटकर रोने लगा

  • एंबुलेंस में पापा, दादा, परदादी, चचेरी दादी और बुआ भी थे, लेकिन बच्चा मां को छोड़ने को तैयार नहीं था
  • मां कुछ देर तक बच्चे के पास एंबुलेंस में बैठी रही, फिर यह कहकर उतरीं कि बेटा मेरा कुछ सामान रह गया है

अम्बाला. मंगलवार को अम्बाला में कोरोना संक्रमण के 7 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से 6 तो कैंट की आहलूवालिया बिल्डिंग की उस 65 वर्षीय महिला के परिवार से हैं, जो 31 मई को कोरोना पॉजिटिव मिलीं थी। इनमें एक 5 साल का बच्चा भी शामिल है। स्वास्थ्य विभाग की टीम जब पूरे परिवार को लेने पहुंची तो बच्चा अपनी मां के बगैर जाते वक्त रोने लगा।

बच्चे को एंबुलेंस में छोड़कर जब उसकी मां जाने लगी तो बेेटे को रोता देखकर वह भी रोने लगी।

5 साल का बच्चा हाथ में खिलौना गेम लेकर मां की अंगुली थामे एंबुलेंस तक तो पहुंच गया। एंबुलेंस के पास पीपीई किट में डॉक्टर्स व स्वास्थ्य कर्मियों की टीम को देखकर डर गया। मां ने प्यार से एंबुलेंस में बैठाना चाहा तो जोर-जोर से रोने लगा और मां को कसकर पकड़ लिया। उसे दिलासा देने के लिए मां कुछ देर के लिए एंबुलेंस में बैठी, फिर यह कहकर उतरीं कि बेटा मेरा कुछ सामान रह गया है, लेकर आती हूं। एंबुलेंस से उतरी तो मां की आंखों में आंसू थे।

बच्चे को एंबुलेंस तक छोड़ने जाते हुए उसकी मां। वह नहीं बैठा तो उसके साथ एक बार एंबुलेंस में भी बैठी लेकिन फिर नीचे उतर गई।

मां ने बेटे की तरफ मुड़ कर नहीं देखा कि कहीं और न रोने लगे। मां-बेटे के आंसू देखकर मोहल्ले के आसपास के लोगों की आंखें भी भीग गई। मंगलवार शाम को करीब 5 बजे स्वास्थ्य विभाग की टीम दो एंबुलेंस लेकर आहलूवालिया बिल्डिंग पहुंची। लोग छतों व छज्जों पर खड़े होकर यह जानने की कोशिश करते दिखे कि टीम किसे लेने आई है। जब एक घर से एक-एक छह सदस्य बाहर निकले तो पड़ोसियों के चेहरों पर भी हैरानी और भय के भाव थे।

ऐसे एक ही परिवार के लोग हो गए संक्रमित
अम्बाला में आहलूवालिया बिल्डिंग की 65 वर्षीय महिला से उनके 72 वर्षीय पति, 38 साल का बेटा, 5 साल का पोता, 90 साल की सास, 60 साल की देवरानी और देवरानी की 25 वर्षीय बेटी संक्रमित हुए हैं। संयुक्त परिवार मल्टी स्टोरी बिल्डिंग में ऊपर-नीचे के मकान में रहता है। 38 वर्षीय बेटा एचडीएफसी बैंक में एरिया मैनेजर हैं। उसकी पत्नी अम्बाला सिटी के दिल्ली पब्लिक स्कूल के जूनियर विंग में हैं।

बेटे को एंबुलेंस में बैठाने की कोशिश करते हुए मां।

उनकी 11 साल की बेटी व 5 साल का बेटा है। 65 वर्षीय महिला कैंसर से पीड़ित है और उनका दिल्ली के एक्शन अस्पताल में रेडियो व कीमोथैरेपी होती है। 20 मई को बेटा अपनी गाड़ी में मां को लेकर दिल्ली गया था। वहीं डॉक्टरों ने पहले कोविड-19 का टेस्ट कराने को कहा था। सीएमओ डॉ. कुलदीप सिंह ने कहा कि दो दिन के भीतर में इस फैमिली के बाकी सदस्यों को दोबारा सैंपल होंगे।