क्रॉकरी संचालक जुगाड़ से बनाता था जापान की नामी कंपनी का नकली सेनिटाइजर, गिरफ्तार

  • कैथल से 1689 लीटर सेनिटाइजर, 5600 लीटर एल्कोहल बरामद
  • छह दिन के रिमांड पर लिया आरोपी, हिसार में एफडीए का छापा, 10 हैंड सेनिटाइजर जब्त

कैथल. अवैध तौर पर सेनिटाइजर बनाने के मामले में कार्रवाई करते हुए सीआईए-वन ने हजारों लीटर केमिकल व जापान की एक कंपनी के नाम के नकली लेबल बरामद किए हैं। आरोपी सेनिटाइजर बनाकर उसे जापानी कंपनी के नाम पर बेचते थे। आरोपी को छह दिन के रिमांड पर लिया गया है।
डीएसपी मुख्यालय कुलवंत सिंह ने बताया कि सीआईए वन पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि शहर में बिना लाइसेंस के सेनिटाइजर तैयार किया जा रहा है। आरोपी कैथल के अलावा प्रदेश के कई जिलों में सेनिटाइजर सप्लाई करता है। सूचना मिलने पर पुलिस व ड्रग्स कंट्रोल ऑफिसर ने जांच के दौरान पाया आरोपी किशोर कुमार के मकान व खाली प्लॉट पर दबिश दी। जहां टोकियो (जापान) की कंपनी बेस्टाइम के नाम से हैंड सेनिटाइजर तैयार किया जा रहा था।

जांच के दौरान खुलासा हुआ कि भीड़ भाड़ वाले बाजार के बीच आरोपी द्वारा हैंड सेनिटाइजर तैयार करता था। सेनिटाइजर बनाने हेतू बनाए गए पानी के टैंक अंदर भी साफ सफाई नहीं थी। इस सेनेटाइजर का उपयोग बचाव की जगह उपभोक्ता को जान व माल का नुकसान पहुंचा सकता था। आरोपी व्यक्ति इथाइल एल्कोहल व ग्लिसरिन को मिलाकर सेनिटाइजर तैयार करते थे, खुशबू के लिए उसमें परफ्यूम मिलाया जाता और असली दिखाने के लिए नीला रंग भी मिला देते। फिर नकली सेनिटाइजर को बोतल में भरकर जापानी कंपनी का लेबल लगाया जाता। नकली सेनिटाइजर को विदेशी बताकर इतने शातिराना ढंग से बेचा जाता कि किसी को भनक तक न लगे। आरोपी की क्रॉकरी की दुकान है और ग्रेजुएट है।
आरोपी से ये सामान हुआ बरामद
जांच के दौरान आरोपी के कब्जे से 18 कार्टूनों मेें 360 पीस से 180 लीटर सेनिटाइजर, 25 कार्टूनों में 1500 पीस से 150 लीटर, 12 कार्टूनों में 295 पीस में 59 लीटर, पांच-पांच लीटर पैकिंग की 180 कैन व बोतलों से 900 लीटर, 50-50 लीटर के 8 कैन से 400 लीटर सहित कुल 1689 लीटर सेनिटाइजर, 200-200 लीटर के 28 ड्रमों से 5600 लीटर ईथाईल एल्कोहल, 50-50 लीटर के दो ड्रमों से 100 लीटर ग्लिसरीन, एक लीटर परफ्यूम, दो लीटर नीला रंग, एक हजार स्प्रे पंप, 1600 मार्का लेबल 500 एमएल बेस्टाइम टोकियो जापान, 50 एमएल, 100 एमएल, 200 एमएल, 500 एमएल तथा 5 लीटर पैकिंग की करीब 12000 खाली बोतल तथा एक इलेक्ट्रॉनिक मिक्सर मशीन समेत लाखों रुपए मूल्य की सामग्री बरामद की गई।

500 रु. की बोतल पर लिखा 630 रुपए एमआरपी, एमडी समेत 5 पर एफआईआर

फूड एंड ड्रग विभाग की टीम ने मंगलवार को कटला रामलीला में रक्षित फार्मा पर छापा मारकर 500-500 एमएल की 10 बोतल हैंड सेनिटाइजर-डिसइंफेक्टेंट जब्त किया है। बैक्टोरब ब्लू नाम से उत्पाद उपलब्ध हुआ है जोकि दमन स्थित रमन एंड वेल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बनाती है।
छापामारी के दौरान टीम को फार्मा पर काफी खामियां मिलीं। इसके चलते ड्रग कंट्रोलर सुरेश चौधरी की शिकायत पर पुलिस ने रक्षित फार्मा संचालक मनोज यादव, उत्पाद सप्लाई करने वाले रोहतक स्थित हुडा काॅम्प्लेक्स में मल्होत्रा ट्रेडर्स के संचालक भारत भूषण मल्होत्रा, रमन एंड वेल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के एमडी हितेन प्रवीण शाह, डायरेक्टर भोविल निहिल शाह और एक अन्य कंपनी डायरेक्टर के विरुद्ध केस दर्ज किया गया है।

जानिए…क्या है पूरा मामला
एफडीए के ड्रग कंट्रोलर डॉ. सुरेश चौधरी ने बताया कि सेनिटाइजर के नाम पर डिसइंफेक्टेंट बेचा जा रहा है। 500 एमएल की बोतल पर 630 रुपये अंकित है। चौधरी ने सीनियर ड्रग कंट्रोलर डॉ. रमन श्योराण, आईएलएम सतबीर सिंह को साथ लेकर एफडीए आयुक्त अशोक मीणा, एडीसी 1 मनमोहन तनेजा, एसडीसी एनके आहुजा के मार्गदर्शन में रक्षित फार्मा पर छापा मारा था।