खेल रत्न के लिए रोहित शर्मा का नाम बीसीसीआई ने भेजा, उनसे पहले महज तीन क्रिकेटरों को मिला है ये सम्मान

नई दिल्ली।  भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर रोहित शर्मा को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इस साल के राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड के लिए नॉमिनेट किया है। रोहित ने पिछले चार सालों में बेहद शानदार प्रदर्शन किया है और वह इस सम्मान को पाने के हरदार हैं। रोहित यह सम्मान पाने वाले महज चौथे क्रिकेटर होंगे। इस साल के खेल के सबसे बड़े सम्मान के लिए टीम इंडिया के विस्फोटक ओपनर रोहित शर्मा का नाम बीसीसीआई की तरफ से भेजा गया है। रोहित को उनके पिछले कुछ सालों में किए गए बेहतरीन प्रदर्शन की वजह से इस सम्मान के लिए नॉमिनेट किया गया है। रोहित से पहले महज तीन क्रिकेटरों को ही इस खेल के सबसे बड़े सम्मान से नवाजा गया है।
रोहित होंगे चौथे क्रिकेटर
सबसे पहले राजीव गांधी खेल रत्न सम्मान से दुनिया के महानतम बल्लेबाजों में शुमार मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को नवाजा गया था। साल 1998 में सचिन को यह अवार्ड दिया गया था। भारत को दो विश्व कप जिताने वाले पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी यह सम्मान पाने वाले दूसरे क्रिकेटर बने थे। भारत को पहला आईसीसी टी20 विश्व कप जिताने वाले कैप्टन कूल धौनी को यह सम्मान साल 2008 में दिया गया था। साल 2018 में टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान विराट कोहली को यह सम्मान मिला था और वह इसे हासिल करने वाले तीसरे क्रिकेट बने थे। रोहित शर्मा को साल 2020 में इस खेल के सबसे प्रतिष्ठित सम्मान के लिए चुना गया है।
रोहित ने हासिल की खास उपलब्धियां
वनडे में तीन बार दोहरा शतक बनाने का कमाल करने वाले रोहित दुनिया के एक मात्र बल्लेबाज हैं। वहीं टी20 क्रिकेट में रोहित ने कुल चार शतक बनाए है। यह भी विश्व रिकॉर्ड है। इंग्लैंड में खेले गए 2019 विश्व कप में रोहित ने कुल 5 शतक जमाए थे और किसी एक सीजन में ऐसा करने वाले वह पहले बल्लेबाज बन गए थे। इस विश्व कप में उन्होंने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। 224 वनडे खेल चुके रोहित ने अब तक 49.27 की औसत से कुल 9115 रन बनाए हैं। जिसमें उन्होंने कुल 29 शतक और 43 अर्धशतक बनाए हैं। 108 टी20 खेल चुके रोहित ने इस फॉर्मेट में 2773 रन बनाए हैं। टी20 इंटरनेशनल में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में वह विराट के बाद आते हैं।