प्रदेशभर से पांच विशेष रेल गाड़ियों से 7800 से अधिक श्रमिक हुए रवाना: सीएम

चंडीगढ़. सीएम मनोहर लाल ने कहा है कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते राज्य सरकार द्वारा प्रदेश से इच्छुक प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्यों में पहुंचाने के लिए रोजाना विशेष श्रमिक रेलगाड़ियों को प्रदेश के विभिन्न रेलवे स्टेशनों से चलाया जा रहा है। 24 मई को हरियाणा से पांच विशेष श्रमिक रेलगाड़ियों को भेजा गया। इनमें करीब 7800 श्रमिक सवार होकर अपने घरों के लिए गए। हरियाणा राज्य की उन्नति व विकास में प्रवासी श्रमिकों का उल्लेखनीय योगदान है।

भिवानी से दो रेलगाड़ी के माध्यम से लगभग 3200 प्रवासी श्रमिकों को कटिहार व अररिया (बिहार), यमुनानगर से तीन रेलगाड़ियों के माध्यम से लगभग 4600 प्रवासी श्रमिकों को बरोनी, मुज्जफरपुर और कटिहार (बिहार) भेजा गया। विविधताओं के बावजूद हम सब देशवासी एक हैं और इसी भावना व सोच के साथ हरियाणा सरकार ने लॉकडाउन में फंसे और अपने घर जाने के इच्छुक प्रवासी श्रमिकों को हरियाणा सरकार के खर्च पर उनके गृह राज्यों में भिजवाने की शुरूआत की है। प्रवासी मजदूरों को शैल्टर होम से रोडवेज की बसों के माध्यम से रेलवे स्टेशन तक लाया गया। प्रवासी मजदूरों को उनके गृह प्रदेश रवाना करने से पूर्व सभी जरूरी इंतजाम किए गए।