पिछले रविवार को पूरा बाजार था बंद इस बार खुली रही अधिकतर दुकानें

जींद. गत रविवार को मुख्य बाजार की दुकानें पूर्ण रूप से बंद थी, लेकिन इस रविवार को बाजार की अधिकतर दुकानें खुली रही। दुकानदारों ने कहा कि रविवार को दुकानें बंद रखनी है। इस प्रकार का कोई संदेश प्रशासन की तरफ से उन तक नही पहुंचा, जिसके चलते बाजार खुला हुआ है। दुकानदारों ने कहा कि अगर प्रशासन के अधिकारी उन्हें एक दिन पहले बाजार बंद रखने के लिए प्रेरित करते तो वे प्रशासन के साथ मिलकर बाजार बंद रखते।

दुकानदारों ने कहा कि पिछले रविवार को पुलिस द्वारा जबरदस्ती दुकानें बंद करवा दी गई थी। अधिकारियों ने कोई आदेश दुकानदारों को नहीं दिया था। वहीं रविवार को खुली दुकानों पर ग्राहकों की संख्या नाममात्र रही। क्योंकि लोगों में यह सूचना है कि रविवार को जिले के सभी बाजार बंद रहेंगी, जिसके चलते रविवार को नरवाना के बाजार की दुकानों पर भी इक्का दुक्का ग्राहक ही नजर आए। शहरवासी अनिल, विकेश, मनोज, कुलदीप, रामनिवास ने कहा कि कोरोना की महामारी के चलते शहर के दुकानों को इतनी एकता तो दिखानी चाहिए कि सप्ताह में एक दिन दुकानदार प्रशासन के किसी आदेश के बिना ही अपनी दुकानें बंद रखें। लोगों ने कहा कि एक दिन बाजार बंद रहने से भी कोरोना वायरस की चेन को तोड़ा जा सकता है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के लोगों के लिए अच्छी बात है कि कोरोना की महामारी के चलते बाजार में कोई कोरोना संक्रमित नहीं मिला है। इसलिए क्षेत्र के हर व्यक्ति को अपनी जरूरत की सभी चीजें बाजार से मिल रही है।