कभी कोरोना पॉजिटिव तो कभी निगेटिव के फेर में उलझा युवक, अब गृह मंत्री से जांच के लिए लगाई गुहार

  • हिसार के दड़ौली गांव के युवक का 25 अप्रैल को लिया गया था सैंपल
  • पहली तीन रिपोर्ट पॉजिटिव, फिर दो निगेटिव फिर दो रिपोर्ट आई थी पॉजिटिव

हिसार. हिसार के अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में एक महीने से भर्ती युवक बेहद परेशान है। वजह कोरोना है, क्योंकि उसकी पहली तीन रिपोर्ट पॉजिटिव आई, इसके बाद दो रिपोर्ट निगेटिव और फिर दो रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। इस निगेटिव और पॉजिटिव के फेर में युवक परेशान हो गया है। उसने अब हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के सामने गुहार लगाई है और जांच पर सवाल खड़े किए हैं।

युवक ने पत्र में बताया कि उसकी तीन रिपोर्ट पॉजिटिव आईं। इसके बाद चौथी और पांचवीं रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी चिकित्सकों द्वारा उसे रिलीव नहीं किया गया। इसके बाद उसकी तीन और रिपोर्ट क्रमश: छठी, 7वीं और 8वीं एक बार फिर पॉजिटिव आईं जो जांच प्रक्रिया पर सवाल उठाती हैं।

युवक ने लिखा है कि उसके शरीर में कोरोना संबंधी किसी प्रकार का कोई लक्षण नहीं हैं और ना ही उसे किसी प्रकार कि कोई खांसी, जुकाम या बुखार या कोई अन्य बीमारी है। वह मानसिक रूप से परेशान हो चुका है। उसने मामले में दखल देकर उसकी सही जांच करवाने की गुहार लगाई है। एक दिन पहले भी युवक अपने सैंपल हिसार से बाहर जांच करवाने की प्रशासन से गुहार लगा चुका है। युवक का कहना है कि उसके सैंपल हिसार से बाहर यदि चेक करवाए जाएं तो रिपोर्ट में अधिक पारदर्शिता हो सकेगी।

यूपी के गाजियाबाद में एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में काम करता था युवक

  • मूलरूप से हिसार के गांव दड़ौली निवासी युवक उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद में एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में नौकरी करता था। युवक बीती 23 अप्रैल को गाजियाबाद से गांव दड़ौली पहुंचा था। युवक के गांव में आने की सूचना 25 अप्रैल को जिला प्रशासन को दी गई थी। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में पहुंची थी।

  • युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसे उपचार के लिए अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया था। युवक की 30 अप्रैल को दूसरी व 6 मई को तीसरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव पाई गई थी। तीन रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद युवक की 10 मई को आई चौथी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसके बाद 5वीं रिपोर्ट भी निगेटिव आई। फिर पॉजिटिव रिपोर्ट आने का सिलसिला शुरू हो गया।