फरीदाबाद में निजी अस्पताल में काम करने वाली महिला ने डॉक्टर पर लगाया यौन शोषण का आरोप

  • आरोप डॉक्टर पर शर्ट का बटन खोलने और प्राइवेट पार्ट पर हाथ लगवाने का आरोप
  • लॉकडाउन के दौरान डॉक्टर पर घटना को अंजाम देने का आरोप

फरीदाबाद. शहर के नामी गिरामी अस्पताल क्यूआरजी के डॉक्टर पर अस्पताल में कार्यरत एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। राज्य महिला आयोग के दखल के बाद पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। महिला आयोग की सदस्य रेनू भाटिया ने अस्पताल पहुंचकर पीड़िता से बातचीत भी की। पुलिस ने भी महिला के बयान दर्ज किए हैं। पुलिस का कहना है कि जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

आरोप लगाने वाली महिला करीब दस साल से यहां कार्यरत है। महिला ने आरोप लगाया कि अस्पताल के यूनिट हेड डॉ. संदीप मोर ने संडे के दिन जबरन उसे ड्यूटी पर बुलाया और अपने कमरे में बुलाकर पर शर्ट की बटन खोलने की कोशिश की। इसके बाद युवती का हाथ पकड़कर अपने प्राइवेट पार्ट पर लगाया। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी भी दी।

राज्य महिला आयोग की सदस्य रेनू भाटिया अस्पताल जा पहुंची और पीड़िता से पूछताछ की।

महिला का आरोप है छेड़छाड़ और यौन शोषण के बाद उन्होंने मैनेजमेंट के लोगों से कई बार शिकायत की लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद उसके पति ने अपने दोस्त की मदद से राज्य महिला आयोग में शिकायत की। शिकायत के बाद राज्य महिला आयोग की सदस्य रेनू भाटिया अस्पताल जा पहुंची और पीड़िता से पूछताछ की। आयोग के दखल के बाद सेक्टर-16 महिला थाना पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

उधर अस्पताल के प्रवक्ता सुरेंद्र चौधरी का कहना है कि महिला की शिकायत मिलने के आधार पर अस्पताल प्रबंधन ने एक त्वरित कार्रवाई की और इस मामले को आंतरिक शिकायत समिति के पास भेजा। जब तक जांच नहीं हो जाती शिकायतकर्ता को अवकाश पर रहने की सलाह दी गई है। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है, दोनों पक्षों को सुनने के बाद उचित फैसला लिया जाएगा।