नाबालिग लड़की के हत्यारे बाप व चचेरे भाई को पुलिस ने किया गिरफ्तार

नारनौल. गांव बलाहाकला में रहने वाले एक कलयुगी पिता ने अपनी भतीजे के सहयोग से अपनी ही बेटी का गला दबाया और उसके बाद उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों का गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार बलाहाकलां निवासी धर्मबीर पुत्र सतबीर ने 18 मई को अपने भतीजे व कर्मबीर पुत्र रामचंद्र के साथ मिलकर पहले अपनी बेटी का गला दबाया और उसके बाद घर में ही फंदे पर लटकाकर हत्या कर दी। इस वारदात के बाद मृतक नाबालिग बेटी का दाह संस्कार भी कर दिया। इस वारदात का खुलासा 20 मई को तब हुआ, जब मृतका की ताई मुन्नीदेवी ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दी। उसके बाद उनके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करके शुक्रवार शाम दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। शनिवार उन्हें अदालत में पेश करके एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

पुलिस प्रवक्ता नरेश कुमार ने बताया कि आरोपी धर्मबीर शराबी किस्म का व्यक्ति है। वह गांव में ही मजदूरी का काम करता हैं। उसकी पत्नी काफी समय पहले मर गई थी। उसके इकलौती नाबालिग बेटी ही थी। वह अपने पिता के साथ गांव में रहती थी। बताया जाता है कि धर्मबीर घर में शराब पीकर उसे झगड़ा करता था। 18 मई को धर्मबीर ने अपने भतीजे कर्मबीर के साथ मिलकर अपनी बेटी के मुंह में कपड़ा ठूंसा और उसका गला दबा दिया। इसके बाद दोनों ने फिर उसके गले मे फंदा डालकर लटका दिया और उसकी हत्या कर दी। पूछने पर गांव में लोगों को कह दिया कि उसकी लड़की के पेट में दर्द था, जिससे वह मर गई। इसके बाद आरोपी ने बेटी का जल्द ही दाह संस्कार कर दिया। इससे किसी को शक भी नहीं हुआ।
कैसे हुआ मामले का खुलासा
बेटी की हत्या के 2 दिन बाद आरोपी धर्मबीर ने शराब पी। इसके बाद वह अपने बड़े भाई की पत्नी मुन्नी से झगड़ा करने लगा। इस दौरान उसने कह दिया कि अपनी बेटी को उसने मारा है। मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। मुन्नीदेवी को अपनी भतीजी की अचानक हुई मौत पर पहले से शक था कि वह पेटदर्द से एकाएक कैसे मर सकती हैं। इसके बाद मुन्नी ने अपनी नाबालिग भतीजी की हत्या की शिकायत गहली चौकी इंचार्ज एएसआई बाबूलाल को दी।

शिकायत मिलने पर मामला एसपी सुलोचना गजराज के संज्ञान में लाया गया। इस पर एसपी ने तुरंत कार्यवाही करके आरोपी को गिरफ्तार करने के आदेश दिए। इसके बाद धर्मबीर व उसके भतीजे कर्मबीर के खिलाफ थाना सदर नारनौल में धारा हत्या का मुकदमा दर्ज करके शुक्रवार शाम दोनों को गिरफ्तार किया गया। शनिवार अदालत ने दोनों को एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। प्रवक्ता ने बताया कि इस रिमांड अवधि में उनसे हत्या का कारण व पुलिस रस्से का फंदा व कपड़े बरामद करेगी।