पंजाब से सिरसा शादी करके लेकर आया दुल्हन, घर बाद में गए, पहले कोरोना टेस्ट करवाया

  • जिला प्रशासन की इजाजत लेकर सिरसा के भंगू गांव से पंजाब के लंबी गए थे शादी करने
  • जिम्मेदार नागरिक का कर्तव्य निभाते हुए दुल्हन समेत, सभी बाराती पहले कोरोना टेस्ट करवाने पहुंचे

सिरसा. सिरसा सिविल अस्पताल में शुक्रवार शाम अचानक एक फूलों से सजी गाड़ी पहुंची तो हर कोई झांक-झांककर ये देखने की कोशिश में जुटा था कि आखिर कौन आया है। दरअसल इस सजी-धजी गाड़ी में आया तो एक नवविवाहित जोड़ा था लेकिन सबसे खास बात ये थी कि पंजाब से सिरसा दुल्हन लेकर पहुंचा दूल्हा घर नहीं गया बल्कि सबसे पहले कोरोना टेस्ट करवाने अस्पताल पहुंच गया। वहां बारात समेत नवविवाहित जोड़े ने कोरोना टेस्ट करवाया।

फूलों से सजी खड़ी गाड़ी। जिला प्रशासन से अनुमति लेकर चंद लोग बारात लेकर पंजाब गए थे।

बता दें कि भंगू गांव के युवक की पंजाब के लंबी गांव में शादी हुई है। शनिवार को वे जिला प्रशासन से अनुमति लेकर चंद लोग बारात लेकर पंजाब पहुंचे थे। वे शाम के समय जैसे ही सिरसा पहुंचे तो फूलों से सजी गाड़ी को लेकर सिविल अस्पताल परिसर में पहुंच गए। यहां उन्होंने बारात के चंद लोगों समेत दूल्हे और दुल्हन का कोरोना टेस्ट करवाया।

भंगू गांव के युवक की पंजाब के लंबी गांव में शादी हुई है।

नवविवाहित जोड़े का कहना था कि ये हमारा कर्तव्य बनता था क्योंकि हम पंजाब जाकर आए थे। हमें लगा कि सबसे पहले कोरोना टेस्ट करवाना चाहिए। यह बहुत बुरी बीमारी है, किसी को भी लग सकती है। ऐसे में सुरक्षा बेहद जरुरी है। इसी मकसद से हमने टेस्ट करवाया है।