कंटेनमेंट जाेन से विवेकानंद नगर का नाम काटा

  • झज्जर रोड पर स्थित सब्जी मंडी को अभी नहीं खोला जाएगा

बहादुरगढ़. वार्ड 18 के तहत विवेकानंद नगर में फार्मासिस्ट व उनके परिजनों की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद शुक्रवार को इस नगर को कंटेनमेंट जोन से हटा दिया गया है। इस नगर को नियंत्रित क्षेत्र से बाहर निकाल दिया गया है। ड्यूटी मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में नगर की गलियों के मुहाने पर लगे बेरिकेड्स हटा दिए गए हैं। पूरी तरह सील नगर को अब आमजन के लिए खोल दिया गया है। पार्षद युवराज छिल्लर ने बताया कि विवेकानंद नगर कोरोना मुक्त हो गया है। इसीलिए इस नगर को आमजन के लिए खोल दिया गया है। उन्होंने बताया कि यह नगर सबसे लंबे समय तक सील रहा है। अब फार्मासिस्ट व उसका पूरा परिवार ठीक हो गया है। ऐसे में विवेकानंद नगर को कंटेनमेंट जोन से बाहर कर दिया गया है। उन्होंने ड्यूटी मजिस्ट्रेट अश्विनी राव, देवेंद्र सिंह, डाॅ. रोहित वत्स, एसएचओ देवेंद्र, एचआई प्रमोद सिंह व बिजेंद्र, सिपाही सुरेश व दीपक, नगर परिषद से उदयभान, डाॅ. पीयूष व आशा वर्करों का कंटेनमेंट जोन की अवधि में बेहतर कार्य करने पर आभार प्रकट किया है। इस मौके पर विरेंद्र खत्री, आशू राठी, नरेश शर्मा, प्रवेश, शमशेर दलाल, विरेंद्र आदि मौजूद थे।
शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में 27 कंटेनमेंट जाेन बनाए थे जिसमें से 15 ही बचे: बहादुरगढ़ शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में 27 कंटेनमेंट एरिया चल रहे हैं। अब धीरे-धीरे कंनटेनमेंट जाेन कम होने लगे हैं। सोमवार को शहर के मुख्य बाजार में लगे बेरिकेड्स हटा दिया था अाज विवेकानंद नगर नगर को हचा दिया गया है। इस तरह से अभी 15 कंटेनमेंट जोन रह गए हैं उन्हें भी इसी सप्ताह में हटाने का काम शुरू होने जा रहा है। वैसे अन्य क्षेत्रों की मुख्त सड़कों पर भी बेरिकेड्स हटाने का सिलसिला शुरू हो चुका है। कोरोना संक्रमण का फैलाव किसी भी स्थिति में न हो पाए इसके लिए पूरी तरह से सतर्कता बरती जा रही है।