50% दुकानें खोलने जा रहा प्रशासन बैकफुट पर, सिर्फ 1 घंटे ज्यादा बाजार खुलने की छूट, बाकी सब पहले जैसा

  • व्यापारी बोले- नारनौल-रोहतक जैसे शहरों में रोज आधी दुकानें खुलेंगी, यहां सिर्फ एक तिहाई

रेवाड़ी. सरकार की ओर से लॉकडाउन – 4.0 की घोषणा के तहत छूट का दायरा बढ़ाया है। इसमें बाजारों को भी काफी छूट मिली है। सिर्फ कंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में इन रियायतों के तहत सुविधा दी जा सकती है। इसी के तहत जिला प्रशासन भी हर दिन बाजार की 50 प्रतिशत दुकानें खोलने की छूट देने की प्लानिंग कर रहा था, मगर बुधवार को प्रशासन ने गाइडलाइन जारी की तो छूट के नाम पर विशेष नहीं मिल पाया।
मुख्य तौर पर आम दुकानों को सिर्फ नया ये मिला कि बाजारों को एक घंटा अतिरिक्त खोला जा सकेगा। पहले शाम 4 बजे तक दुकानों को अनुमति थी, अब शाम 5 बजे तक खोली जा सकेंगी। व्यापारियों की मांग और खुद की प्लानिंग के बावजूद प्रशासन रियायत के मामले में बैकफुट पर नजर आया।
बड़ा सवाल… दुकान मालिक और किरायेदार आमने-सामने
बाजार में बहुत से दुकानदार और व्यापारी किराये की दुकानों में हैं। किसी बाजार में दुकान का किराया 8 हजार रुपए तो कहीं 40 हजार रुपए भी है। प्रशासन के वन, टू, थ्री के फॉर्मूले से एक दुकान को सप्ताह में 2 दिन यानी कि महीने में 8 ही बार खुलने का समय मिल पा रहा है। ऐसे में दुकानदारों का तर्क है कि यह घाटा कैसे निकलेगा। दुकान पर काम करने वाले कर्मियों को भी वेतन देना है। मोती चौक व्यापार संगठन के प्रधान रमेश मित्तल का प्रशासन से आग्रह है कि कुछ छूट दें तो दुकानदारों को बड़ी राहत मिलेगी। हालांकि प्रशासन की गाइडलाइन यदि 1, 2, 3 की है तो सभी को उसकी भी पालना करनी ही है।

रात्रि कर्फ्यू जारी है :

शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक केवल अतिआवश्यक को छोडक़र आवागमन पर प्रतिबंध रहेगा। 65 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति व दस वर्ष तक के बच्चे, गर्भवती महिलाएं और क्रॉनिक बीमारियों से पीडि़त व्यक्ति को भी घर के अंदर ही रहना होगा। केवल चिकित्सा व अतिआवश्यक होने को छोडक़र।
थूकने पर 500 रुपए जुर्माना : सावर्जनिक स्थानों पर थूकने पर 500 रुपये के जुर्माने का प्रावधान किया गया है। जिला के सभी राजपत्रित अधिकारी जुर्माना करने के लिए अधिकृत किए गए हैं। सार्वजनिक स्थान पर शराब, पान, गुटखा, तंबाकू आदि के सेवन पर प्रतिबंध रहेगा।

सिनेमा-मॉल, जिम… इनको अभी भी छूट नहीं
स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थान, कोचिंग संस्थान, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल जिमनाजिम, स्वीमिंग पूल, थियेटर, बार, ओडिटोरियम, एसेंबली, हॉल, सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, अकेडमिक, धार्मिक कार्यक्रम, धार्मिक स्थान, पूजा स्थल आदि बंद रहेंगे। कंटेनमेंट जोन में सभी गतिविधियों पर कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत प्रतिबंध रहेगा। बारबर शॉप, सैलून, ब्यूटी पार्लर, स्पा बंद रहेंगे। रहेड़ी, जूस की दुकान व रेहड़ी, रेडी टू इट इटेबल, चाय की दुकान आदि को खोलने की अनुमति नहीं है।

बाजार इस तरह खुलेगा

पुराना नियम लागू : दुकान खोलने के लिए शहर व कलर कोडिंग व नंबरिंग पहले की भांति 1,2,3 नियम से खुलेंगी। नंबर 1 दुकान सोमवार व वीरवार, 2 नंबर मंगलवार व शुक्रवार, 3 नंबर बुधवार व शनिवार को खुलेंगी। खाद, बीज, दवाई व कृषि यंत्र की दुकानें सोमवार से शनिवार प्रात 9 बजे से सायं 6 बजे तक खुलेंगी।

व्यापारियों के सुझाव लेने के बाद प्रशासन की भी कुछ ऐसी ही प्लानिंग थी, मगर लागू नहीं…

प्रशासन ने व्यापारियों को छूट देने के लिए बुधवार को बैठक बुलाई थी। एडीसी राहुल हुड्‌डा की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान संगठनों ने कई तरह के सुझाव रखे थे। व्यापारी चाह रहे थे कि बाजार शाम 6 बजे तक तो खुले। इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा दुकानों को खुलने का मौका मिले। प्रशासन ने भी इसी प्लानिंग को अमल में लाने की बात कही थी, मगर बैठक के अगले ही दिन
गुरुवार को प्रशासन की गाइडलाइन में रियायत नहीं मिली।
{व्यापारिक संगठनों ने आग्रह किया था कि सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान व दुकानें नियम व शर्तों के अधीन प्रतिदिन समय सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक खोलने की अनुमति दें।
{इससे दुकानों में ज्यादा ग्राहकों की संख्या भी नहीं रहेगी व ग्राहकों की संख्या सभी प्रतिष्ठानों व दुकानों में बंट जाएगी व अधिक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होगा।
{दुकानों पर बड़ी संख्या में कार्यरत कर्मचारियों को रोज़गार मिलेगा।
{दुकानों के मालिकों और किरायेदारों में विवाद उत्पन्न नहीं होगा ।
{सभी दुकानें खुलने से ग्राहकों को दोबारा बाज़ार में आने की आवश्यकता नहीं होगी।

ये दुकानें सातों दिन खुलेंगी
{मिल्क बूथ, डेयरी शॉप सोमवार से रविवार को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक, फार्मेसिज एंड कैमिस्ट शॉप सोमवार से रविवार समय सीमा नहीं। हॉल सेल सब्जी मंडी, न्यूज पेपर वेंडर व न्यूज पेपर हॉक्र्स सोमवार से रविवार सुबह 4 बजे से 9 बजे तक।
{रेस्टोरेंट, बेकरी, स्वीट्स शॉप व हलवाई शॉप केवल होम डिलवरी के लिए सोमवार से शनिवार सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक (खाना परोसने की अनुमति नहीं)। स्टैण्ड अलॉन (सिंगल शॉप) नेबरहुड शॉप सोमवार से शनिवार तक सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक खुलेंगी।
{हाईवे पर स्थित ढाबों के लिए समय सीमा संबधित एसडीएम द्वारा निर्धारित की जाएगी। ढ़ाबें सोमवार से रविवार (केवल खाना देने के लिए) खुलेंगें। खाना बैठाकर खिलाने की अनुमति नहीं होगी।
{जो दुकान व प्रतिष्ठान उपरोक्त में शामिल नहीं है, वह दुकानें सप्ताह में केवल दो दिन नंबरिंग व कलर कोडिंग के अनुसार प्रात: 9 बजे से शाम 5 बजे तक खुलेंगी।
{नंबरिंग व कलर कोडिंग के बिना दुकान नहीं खोल सकते, मेडिकल स्टोर, दूध व डेयरी शॉप को छोडक़र सभी दुकानें रविवार को बंद रहेंगी। अस्पताल, क्लीनिक, नर्सिंग होम, फार्मेसी, केमिस्ट शॉप व होलसेल सब्जी मंडी पर कलरिंग व नंबरिंग व खुलने की समयसीमा लागू नहीं होगी। आदेशों को विस्तृत रूप से जिला की वेबसाइट https://rewari.gov.in/ पर पढ़ सकते हैं।