हत्यारे से बचने के लिए काफी भागा किशोर, ईंट का वार नहीं सह पाया

रोहतक. महम क्षेत्र के गांव भैणी भैरों में 14 वर्षीय किशोर की सिर में ईंट मारकर हत्या की गई है। मृतक मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। इन दिनों वो अपने बड़े भाई के साथ तूड़ी के कूप बंधाई के काम के लिए भैणी भैरों में आया हुआ था। पुलिस जांच में सामने आया है कि मृतक अपने भाई से अलग गांव के ही एक युवक ज्योतिव के साथ खेतों में एक कमरे में रहता था। पुलिस ने मृतक के भाई के बयान पर ज्योतिव के खिलाफ केस दर्ज किया है। आशंका जताई जा रही है कि आरोपी ने किशोर के साथ कुकर्म किया है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है। महम थाना प्रभारी नवीन जाखड़ का कहना है कि पोस्टमार्टम के रिपोर्ट में ही युवक के साथ हुई ज्यादती और हत्या की वजह पता चलेगी। पुलिस ने आरोपी ज्योतिव की तलाश में कई जगह छापेमारी की है। वहीं पुलिस जांच में ये भी सामने आया है कि मृतक ने आरोपी से बचने के लिए काफी संघर्ष किया है। पुलिस को किशोर का शव खेत में बने कमरे से काफी दूर खाली खेत के बीचों बीच पड़ा मिला है। शव अर्धनग्न हालत में था।

उसके सिर पर ईंट के वार का भी एक ही निशान मिला है। पुलिस का मानना है कि आरोपी ने किशोर के भागने पर उसके पीछे भाग उसके सिर में ईंट मारी है। गंभीर रूप से घायल होने पर किशोर ने काफी खून बहने के बाद दम तोड़ा होगा। पुलिस को मामले के बारे में सुबह गांव के सरपंच रोहताश पहलवान ने सूचना दी थी। पुलिस को मृतक के भाई ने बयान दिया है कि जब वो गुरुवार सुबह अपने भाई से मिलने खेत में पहुंचा तो उसे उसका शव मिला। इसके बाद उसने पुलिस को सूचना दी। एफएसएल एक्सपर्ट डॉ. सरोज दहिया मलिक की टीम ने भी मौके से साक्ष्य जुटाए हैं।तूड़ी के कूप बांधने के लिए गांव आए थे दोनों भाई: पुलिस जांच में सामने आया है कि गेहूं कटाई के सीजन के दौरान ही किशोर गांव में आया था। उसका भाई पहले भी गांव में रहकर मजदूरी करता था। किशोर के गांव आने के बाद दोनों भाई गांव में किसानों के खेतों में तूड़ी के लिए कूप बंधाई का काम करते थे। किशोर गांव के ही ज्योतिव के साथ एक खेत में बने कमरे में रहता था। उसका भाई गांव में रहता था। पुलिस का का कहना है कि आरोपी ज्योतिव ने अपना मोबाइल फोन बंद कर रखा है। इस वजह से उसकी लोकेशन ट्रेस करने में दिक्कत आ रही है। जल्द ही उसे काबू कर लिया जाएगा।