विधायकों का आरोप-अफसरशाही हो रही हम पर हावी फोन न उठाने वाले अफसरों की शिकायत दें: ज्ञानचंद

  • प्रदेश में पहली बार विधानसभा स्पीकर ने वीसी के जरिए 11 जिलों के विधायकों से की चर्चा

पानीपत. राज्य में जनप्रतिनिधियों में अफसशाही हावी होने लगी है। अफसर विधायकों के फोन नहीं उठा रहे। ऐसे में अब सभी विधायक एकजुट हो गए हैं। मामला विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता तक पहुंचने के बाद अब उन्होंने विश्वास दिलाया है कि जो अधिकारी फोन नहीं उठाते उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। गुरुवार को स्पीकर ने राज्य के 11 जिलों के विधायकों के साथ पहली बार वीडियो काॅन्फ्रेंस के जरिए बातचीत की। इसमें कोरोना को लेकर भी चर्चा हुई। ज्यादातर विधायकाें ने यही मसला रखा कि अधिकारी सुनवाई नहीं करते।

अब ऐसे अधिकारियों को विशेषाधिकार समिति के सामने पेश करने की तैयारी कर ली गई है। स्पीकर गुप्ता ने कहा कि जो अधिकारी फोन नहीं उठाते, उनकी लिखित में शिकायत दी जाए। ऐसे मामलों को विधानसभा की विशेषाधिकार समिति के सामने रखा जाएगा। समिति ऐसे दोषी अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई कर सकती है।

जल्द बनेगी विशेषाधिकार समिति

: विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि कमेटियों के गठन की प्रक्रिया जल्द पूरी होगी। विशेषाधिकार समिति भी बनाएंगे। विधायकों की ओर से आने वाली अफसरों की इस प्रकार की शिकायत को विशेषाधिकार समिति के सामने रखा जाएगा। गौरतलब है कि विशेषाधिकार समिति जनप्रतिधियों के विशेष अधिकारों के हनन के मामले में अफसरों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश कर सकती है।

ये बहाने बना रहे अफसर

वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कई विधायकों ने कहा कि अधिकारी लॉकडाउन का बहाना बना कर अकसर उनका फोन नहीं उठाते। यदि फोन उठा भी लेते हैं तो बताए हुए काम नहीं करते। वे तरह-तरह के बहाने बना रहे हैं। इससे उनके क्षेत्र में काम नहीं हो पा रहे।