जिला महेंद्रगढ़ में एक दिन में फूटा 10 कोरोना पॉजिटिव का बम अब तक 15 दिनों में सामने आए थे 11 केस

  • अटेली सीएचसी के अंतर्गत आने वाले गांवों में एक दिन में कोरोना के संक्रमित केस का चौका लगने से स्वास्थ्य विभाग हुआ चौकन्ना

महेंद्रगढ़. जिला महेंद्रगढ़ में गुरुवार कोरोना विस्फोट हुआ। एक ही दिन में सबसे ज्यादा 10 केस पॉजिटिव निकले। देर शाम इस रिपोर्ट के बाद प्रशासन के हाथ-पैर फूल गए और आनन-फानन में सभी संबंधित स्थानों को कंटेनमेंट जोन और बफर जोन बनाने की कार्रवाई की गई। इनमें 6 नांगल चौधरी खंड में और 4 अटेली खंड में केस पाए गए।

गुरुवार स्वास्थ्य विभाग की ओर से 39 सैंपलों की जांच रिपोर्ट आने का इंतजार था। सुबह से ही इस बात का आभास हो गया था कि कुछ, ना कुछ गड़बड़ी ही सामने आएगी, क्योंकि अब तक जिले में 11 पॉजिटिव केस आ चुके थे। इसी को देखते हुए 39 की रिपोर्ट में कम से कम आधे के पॉजिटिव होने का अनुमान लगाया जा रहा था। स्वास्थ्य विभाग भी दिन भर इसकी तैयारियों में जुटा रहा। शाम करीब 7.15 बजे जब रिपोर्ट आयी और उसमें पहले 11 और बाद में संशोधित होकर 10 की सूचना मिली तो एक एकबारगी सबको झटका लगा। इस 11 में से एक ढाणी मामराज की रिपोर्ट को स्वास्थ्य विभाग की ओर से रिपीट करने के लिए लिखा गया।

पिछले 14 दिन के इस सफर में जीआरपीएफ के तीसरे साथ, नारनौल के खडख़ड़ी मोहल्ले के दिल्ली से आए एक युवक, महेंद्रगढ़ के महायचान मोहल्ले के केस के बाद अटेली, खातोली जाट और फिर नांगल दुर्गु में दो पॉजिटिव मामले सामने आए। बुधवार देर शाम शहर के किला रोड का एक युवक भी पॉजिटिव मिला। 15 दिनों के सफर में धीरे-धीरे करके सामने आए इन मामलों के बाद अचानक गु़रुवार को 39 केसों की रिपोर्ट सामने आयी और इसमें 10 पॉजिटिव मिले। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले के 13 पूलों की पीजीआई से यह रिपोर्ट आनी थी। प्रत्येक पूल में तीन केस शामिल होने के कारण 39 की रिपोर्ट आनी थी। जानकारी के मुताबिक अभी 259 सैंपलों की रिपोर्ट आनी और बाकी है।

सिविल सर्जन डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि जिला में गुरूवार कोरोना पॉजिटिव के 10 नए केस आए हैं। इन सभी को आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज पटीकरा में बनाए गए कोविड-19 के स्पेशल वार्ड में भर्ती करवाया गया है। इसके साथ ही अब तक जिला में कुल 21 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। आज जिले के अटेली क्षेत्र के गांव बजाड, गुजरवास, महासर में 4 केस पाए गए हैं। ये सभी अटेली सीएचसी के नीचे आते हैं। इसके अलावा जिले के गांव बायल, नांगल सोडा, रावता की ढाणी, भोजावास, नांगल नुनिया, खातोली जाट में 6 केस पाए गए हैं। यह सभी नांगल चौधरी सीएचसी के अंदर आते हैं।

इन सभी क्षेत्रों में कोरोना पॉजिटिव के बाद जिला प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन घोषित किया है तथा इसके आसपास के क्षेत्र को बफर जोन घोषित किया गया है। इस प्रकार जिले में अब कुल 14 कंटेनमेंट में बफर जोन घोषित किए गए हैं। इन सभी पर पुलिस ने नाके लगा दिए हैं। कंटेनमेंट जोन में किसी भी व्यक्ति के आने व जाने पर पूरी तरह पाबंदी रहेगी। अब जिला में कुल 21 कोरोना पॉजिटिव मरीज है। इनमें से चार की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब जिले में कोविड.19 के 17 एक्टिव केस हैं।

कोविड.19 के लिए अब तक जिले से 2563 सैंपल भेजे गए हैं। जिले में अब तक 8348 लोगों को उनके घरों में एकांतवास में रखा गया है। आज इन मोबाइल टीम ने 761 लोगों की स्क्रीनिंग की है। इनमें से 621 मरीजों को सामान्य बीमारी मिली है। जिले में 21 मई तक 55580 नागरिकों की स्क्रीनिंग की गई है। इनमें से 32706 मरीजों में सामान्य बीमारी पाई गई है।

कोरोना पॉजिटिव केस पहले दिल्ली व दूसरे स्थानों से आने वाले लोग मरीज के रूप में सामने आ रहे थे। लेकिन अब नये केस सामने आने से लग रहा है कि कोरोना क सामुदायिक संक्रमण को ओर बढ़ रहा है। अटेली अस्पताल अंतर्गत मंडी अटेली में 16 मई को पहला केस गुड़गांव से आया युवक है। जिले में पॉजिटिव केस 8 मई को सर्वप्रथम दिल्ली से आने रेलवे पुलिस के जवान रहे है। अटेली सीएचसी के अंतर्गत आने वाले गांवों में एक दिन में कोरोना के संक्रमित केस का चौका लगने से स्वास्थ्य विभाग हुआ चौक न्ना हो गया है।

जिले में 10 कोरोना के केस मिलने वालों में अटेली अस्पताल के 4 केस पॉजिटिव आने से अटेली क्षेत्र में सन्नाटा छा गया है। सामजिक न्याय मंत्री ओमप्रकाश एडीओ के पैतृक गांव बजाड़ में दंपति का सैंपल पॉजिटिव मिला है। दंपति कुण्ड के एक निजी अस्पताल में पॉजिटिव के स के कांटेक्ट में आने पर इनका सैंपल लिया गया था। वही महासर गांव में 18 वर्षीय युवक दिल्ली में पढ़ता है, इसकी ट्रेवलिंग हिस्ट्री होने पर इसका सैंपल लिया गया था। वही गुजरवास गांव में मिले 39 वर्षीय युवक गुड़गांव से आने वाले अटेली कस्बे वाले संक्रमित केस के सम्पर्क में होने पर इसका सैंपल लिया गया। इन सभी के सैंपल 18 मई को लिये गये थे जिनकी रिपोर्ट गुरुवार देर शाम को सीएमओ कार्यालय में आई है।

गुरुवार देर शाम संक्रमित केस आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम सजग हो गई। संक्रमण को रोकने के लिए कंटेनमेंट व बफर जोन में जुट गई है। अब अटेली सीएचसी में 4 स्थानों पर कंटेनमेंट जोन व बफर जोन होंगे। जिले में तथा अटेली क्षेत्र में इतने सारे केस सामने आने से लोगों में भय का माहौल बन गया हैं। जिला प्रशासन की ओर से पुलिस ने पहुंच कर कंटेनमेंट जोन बना कर बेरिकेड्स लगा दिये। इस जोन में लोगों की आवाजाही बंद करने दिया है। तीनों गांवों में सेनिटाइजर का भी छिड़काव किया है। आज शुक्रवार को 22 मई को संक्रमित केस के संपर्क में आने वालों की मोबाइल टीम इंचार्ज ईएमटी सतेन्द्र चौहान सैंपल लेंगे।

अटेली कस्बे में पहला पॉजिटिव केस 16 मई को आया था सामने, चिंताजनक

^मरीज के घर वाली गलियों में फायर ब्रिगेड की से सेनेटाइजर कर दिया गया है। विशेष एंबुलेंस से कोविड-19 इसके सम्पर्क में आने वाले लोगों के सैंपल लिये जाएंगे। मरीज से पूछताछ की जाएगी तथा उसके सम्पर्क में आने वालों के सैंपल लिये जाएंगे तथा स्वास्थ्य विभाग भी इस मोहल्ले में सभी की स्क्रीनिंग करेगा। चिकित्सकों ने आमजन से कोरोना के बचाव के लिए आवश्यक एहतियात, मास्क व दूसरे सुरक्षा के उपाय रखने की सलाह दी हैं। इसके बाद कंटेनेमेंट जोन व बफर जोन बना स्वास्थ्य विभाग इसमें अग्रिम कार्रवाई करेगा। स्वास्थ्य विभाग मरीज के सम्पर्क में आने वाले लोगों की हिस्ट्री व परिवार के बारे में गहन जानकारी लेकर सभी की स्क्रीनिंग व जरूरत के हिसाब से सैंपल लिये जाएंगे। -डॉ. सुरेंद्र यादव, एसएमओ।
^इन सभी के सैंपल 18 मई को लिये गये थे, ट्रेवलिंग व दूसरी पॉजिटिव केस के सम्पर्क में आने की हिस्ट्री होने पर सैंपल लिये गये थे। अटेली अस्पताल में एलटी रवि कुमार के सहयोग से अभी तक 246 सैंपल लिये जा चुके है तथा 18 मई तक लिये सैंपल की रिपोर्ट में उक्त 4 पॉजिटिव सामने आये है। -डॉ. विजय यादव, अटेली अस्पताल से कोरोना सैंपल कलेक्टर