गुड़गांव अस्पताल ने कोरोना पॉजिटिव की डिलीवरी से मना किया तो फरीदाबाद में स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया 

  • फरीदाबाद के ईएसआई अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव ने बच्ची को जन्म दिया
  • गुड़गांव की 25 वर्षीय महिला की बेटी कोरोना निगेटिव मिली

गुड़गांव. गुड़गांव की एक कोरोना पॉजिटिव महिला ने फरीदाबाद के ईएसआई अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया है। महिला के परिजनों का कहना है कि महिला की डिलीवरी से पहले कोरोना की जांच करवाई गई थी, जिसमें वह पॉजिटिव मिली। इसके बाद वे गुड़गांव के सरकारी अस्पताल में डिलीवरी के लिए लेकर गए थे लेकिन कोरोना पॉजिटिव होने की बात सुनकर उन्होंने डिलीवरी से मना कर दिया और फरीदाबाद रेफर कर दिया। फरीदाबाद में बच्ची को जन्म दिया है। बच्ची एकदम स्वस्थ है।

बता दें कि गुड़गांव की रहने वाली 25 वर्षीय महिला को कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। उसकी डिलीवरी होनी थी। प्राइवेट नर्सिंग होम ने डिलीवरी से पहले कोरोना की जांच करवाई तो पॉजिटिव मिली। इसके बाद वे गुड़गांव के सरकारी अस्पताल में लेकर गए। आरोप है कि अस्पताल ने डिलीवरी से मना करते हुए फरीदाबाद ईएसआई रेफर कर दिया। गुड़गांव के डॉक्टरों का कहना था कि उनके यहां पॉजिटिव महिला के प्रसव की पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं।

परिजन महिला को निजी वाहन से फरीदाबाद के ईएसआई अस्पताल लेकर पहुंचे। रास्ते में महिला तीव्र प्रसव पीड़ा से कराहती रही। ईएसआई अस्ताल में उसे तुरंत लेबर रूम में ले जाया गया। फरीदाबाद के डॉक्टरों का कहना है कि यह नार्मल डिलीवरी हुई। नवजात शिशु जांच में निगेटिव पाई गई है।

ईएसआई मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के डीन डॉ. असीम दास का कहना है कि महिला को गुड़गांव से फरीदाबाद रेफर किया गया था। महिला ने ईएसआई अस्पताल पहुंचने के तीन घंटे के बाद एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया। बच्ची स्वस्थ है। गुड़गांव के सीएमओ डॉ. जसवंत सिंह पूनिया का कहना है कि सेक्टर 31 के पॉलीक्लीनिक में भावी माताओं के लिए व्यवस्था की गई है। उन्हें इस केस के फरीदाबाद में रेफर किए जाने की जानकारी नहीं है।