स्कूल में दिव्यांग, गर्भवती व क्रोनिक रोग से पीड़ित स्टाफ को अब छूट रहेगी

  • सरकारी स्कूल में दाखिले को आ सकते हैं पेरेंट्स

अम्बाला. सरकारी स्कूलों में दाखिले के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अभिभावक आ सकते हैं। स्कूल मुखिया मिड-डे मील, किताब वितरण व दाखिलों आदि के लिए प्रभारी अध्यापक को बुला सकते हैं। गर्भवती, दिव्यांग व क्रोनिक रोग से पीड़ित स्टाफ सदस्य को छूट रहेगी। शिक्षा निदेशालय की ओर से जारी आदेशों के मुताबिक स्कूल मुखिया को स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्यों की पहली बैठक एक हफ्ते के भीतर करनी होगी। जिसमें दाखिला अभियान, 100 फीसदी नामांकन व ड्रॉपआउट रेट शून्य करने पर विचार करना होगा।