जिले के 42 केसाें में 26 केस का लिंक बाहर से, सबसे ज्यादा 15 दिल्ली से जुड़े हुए

पानीपत. जिले में अब तक 42 पाॅजिटिव केस मिले हैं। इनमें 26 केसाें का लिंक या ताे बाहर से है, या फिर बाहर से आने वालाें के संपर्क में आकर पाॅजिटिव हुए हैं। वहीं सिर्फ 16 केस एेसे है जिनका बाहर से काेई लिंक नहीं है, यानी उनकी काेई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं मिली है। बाहर से आने वाले केसाें में सबसे ज्यादा केसाें का लिंक दिल्ली से है। 15 केस ताे ऐसे है जाे दिल्ली से जुड़े हैं, या ताे वाे दिल्ली से आए हैं या फिर दिल्ली से आने वालाें के संपर्क में आए हैं। 10 केस ताे ऐसे है जाे दाे परिवार से ही जुड़े हैं। इसमें 6 केस खुबड़ू गांव के एएसआई परिवार के है ताे 4 धूपसिंह नगर के परिवार से हैं। सिर्फ दाे केस ऐसे है जाे विदेश से आए और पाॅजिटिव मिले हैं। दाेनाें केस माॅडल टाउन के हैं।

जिले में 50 साल से ऊपर के 7 बुजुर्ग मिले हैं, इसमें 4 पुरुष अाैर तीन महिलाएं हैं। ये सभी काेराेना काे हराकर घर लाैट चुके हैं। जिले में 20 या इससे कम उम्र के 5 पाॅजिटिव केस हैं। इसमें एक 7 साल का बच्चा भी है, ये सभी भी काेराेना काे हराकर घर पर अा चुके हैं। जिले में अब तक सबसे ज्यादा पाॅजिटिव केस 20 से 50 उम्र के 30 केस मिले हैं। इसी अायु ग्रुप में तीन की माैत भी हाे चुकी हैं। इन 27 में से 23 केस ठीक हाे चुके हैं, 4 का इलाज जारी है। जिले में कुल 31 केस ठीक हाे चुके हैं। सबसे कम 8 दिनाें में नाैल्था की मंजू ने काेराेना काे हराया है। एसअाई लता काे ठीक हाेने में 22 अाैर धूप सिंह नगर की शबनम काे 24 दिन लगे हैं। 42 केसाें में 30 पुरुष अाैर 12 महिलाएं, 20 से 50 उम्र के 30 केस मिले।