राज खुलने के डर से की थी विशु की हत्या, शव घग्गर नहर में फेंक दिया था

  • आरोपी किडनैपर राजेंद्र उर्फ जिंदा ने पुलिस पूछताछ में किया खुलासा

करनाल. दिसंबर में फिरौती के लिए विशु की हत्या करने वाले एक और आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने विशु को किडनेप कर पांच लाख रुपए की फिरोती मांगी थी। ढाई लाख रुपए देने के बावजूद भी विशु की हत्या कर दी थी। 29 दिसंबर को देर शाम करनाल पुलिस की थाना निसिंग में दर्शन लाल पुत्र दिवान चंद वासी निसिंग ने शिकायत दी थी कि सुबह उसके बेटे विश्व भारती उर्फ विशु को किसी ने किडनैप कर लिया है। इस संबंध में दोपहर बाद उनके पड़ोसी बूटा सिंह के मोबाइल पर एक अज्ञात नंबर से फोन आया कि पांच लाख दो वरना तुम्हारे बेटे की हत्या कर देंगे। उन्होंने शाम के समय अपहरणकर्ता के बताए मुताबिक ढाई लाख रुपए उनके द्वारा बताए गए स्थान पर दे दिए थे। मामला एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया के संज्ञान में आया तो उन्होंने मामले पर तुरंत कार्रवाई करते हुए सीआईए-1 के इंचार्ज दीपेंद्र राणा को मामले की जांच सौंपी। निरीक्षक दीपेंद्र राणा की टीम द्वारा मामले के एक आरोपी अमनदीप उर्फ अमन बाबा पुत्र सुखदेव सिंह वासी निसिंग को कस्बा पुंडरी जिला कैथल से गिरफ्तार किया गया।
पूछताछ पर उसने खुलासा किया कि विशु के परिजनों से रुपए लेने के बाद ही उन्होंने हत्या कर दी थी व शव नहर के पास फेंक दिया था। एसपी ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर गांव टटियाला थाना चीका जिला कैथल से आरोपी राजेंद्र उर्फ जिंदा पुत्र शेर सिंह वासी गांव गोंदर जिला करनाल को गिरफ्तार किया है। आरोपी से 315 बोर कट्टा व तीन जींदा रौंद बरामद किए गए। आरोपी ने बताया कि उसने विशु को पैसे के लिए किडनैप किया था व बाद में पैसा लेने के बाद राज खुलने के डर से उसकी हत्या कर शव को घग्गर नहर पंजाब के पास फेंक कर फरार हो गए थे। आरोपी जिंदा पर विशु की हत्या के मामले में 5000 रुपए का ईनाम घोषित किया जा चुका है। इसके अलावा आरोपी उपरोक्त के खिलाफ चोरी, लूट व हत्या के करीब 25 मुकदमे में जिला कैथल, करनाल व अन्य जिलों में दर्ज रजिस्टर है। आरोपी को कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगा जाएगा।

तलवार और चाकू से हमला कर दो युवकों को किया घायल

सेक्टर 4 ग्रीन बेल्ट में देर शाम चार युवकों पर कुछ अन्य युवकों ने चाकू, तलवार से हमला कर दिया, जिसमें दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए, उन्हें सरकारी अस्पताल में दाखिल कराया गया। एक युवक ने बताया कि राहुल और मयंक अपने दोस्तों के साथ ग्रीन बेल्ट में घूम रहे थे। देर शाम को कुछ अन्य युवकों ने उन पर हमला कर दिया, जिसमें रोहित की कमर पर और मयंक की टांग पर चाकू लगा है। वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जिन्हें सरकारी अस्पताल में दाखिल करा दिया गया है अभी असली कारणों का पता नहीं है। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले इनकी कहासुनी हुई थी, जिसको लेकर यह हमला किया गया है। सिटी थाना प्रभारी हरजिंदर ने बताया कि इस मामले की जांच की जा रही है।