नहर में नहाते वक्त दिल्ली के तीन इंजीनियर डूबे, तीनों की मौत, काफी तलाश के बाद मिले शव

  • झज्जर जिले के बादली कस्बे की एनसीआईर माइनर में नहा रहे थे तीनों
  • निर्माण साइट से वापस दिल्ली लौट रहे थे, नहाने के लिए रूके थे

बहादुरगढ़ (बादली). झज्जर जिले के बादली कस्बे में बहने वाली नहर (एनसीआईर माइनर) में नहाते वक्त दिल्ली के तीन सिविल इंजीनियर डूब गए। तीनों की मौत हो गई, काफी तलाश के बाद तीनों के शव निकाले गए। ये तीनों नौरंगपुर गांव के पास एक कंस्ट्रक्शन साइट से वापस दिल्ली की तरफ जा रहे थे।

तीनों इंजीनियर थे और दादरी तोए के पास एक कंपनी में काम करते थे। इनकी पहचान दिल्ली के नजफगढ़, प्रेमनगर निवासी प्रदीप पुत्र जगदीश चंद्र, नई दिल्ली के उत्तम नगर, मंशा राम पार्क निवासी आशीष भारद्वाज पुत्र विजय पाल, दिल्ली के नांगलोई निवासी एसएम मुर्सलीन पुत्र एसएम मुर्सलीन के रूप में हुई है।

तीनों सिविल इंजीनियर मंगलवार की शाम को करीब 5 बजे एनसीआर माइनर पर नहाने के लिए आए थे। नहाने के दौरान डूब गए। उनके डूबने का पता चला तो सूचना पुलिस को दी। गोताखोरों की मदद से बुधवार को तीनों के शवों को बाहर निकाला गया। पुलिस ने शवों का पोस्टमॉर्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है।