लॉकडाउन-4 से लौटने लगी बाजार में सामान्य स्थिति

करनाल. जिले में लॉकडाउन-4 शुरू हो गया है, जो 31 मई तक रहेगा। दुकानों खुलने का समय बढ़ने से दुकानदारों के साथ-साथ ग्राहकों को भी राहत मिली है। हालांकि दिन प्रतिदिन बाजार में ग्राहकों की भीड़ बढ़ रही है। लोग अपनी जरुरतों के सामान की खरीदारी के लिए बाजार में पहुंचने लगे हैं, क्योंकि अब बाजार सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक खुलने लगे हैं। बाजार में लंबे समय तक खुलने से अब धीरे-धीरे स्थिति सामान्य होने लगी है। लोगों को बाजार में शॉपिंग के लिए अधिक समय मिलने लगा है। लेकिन लॉकडाउन-4 के तहत बाजार को अधिक समय मिलने के अलावा अन्य सभी व्यवस्थाएं लॉक डाउन-3 की तरह ही लागू रहेंगे। सायं 7 बजे से सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू जैसी स्थिति रहेगी। जरूरी हो तो घरों से निकले, बाजारों व सड़कों पर भीड़ न करें, नहीं तो सख्त कार्रवाई होगी।
उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने जिलावासियों से कहा कि भारत सरकार द्वारा कोविड-19 के तहत चौथे चरण का लॉकडाउन 18 से 31 मई तक बढ़ा दिया है। इस लॉकडाउन के तहत सायं 7 बजे से सुबह 7 बजे तक आवश्यक जरूरतों को छोड़कर कर्फ्यू जैसी स्थिति रहेगी। इसके लिए जिले में धारा 144 लगाई गई है। जरूरत के अनुसार ही घर से बाहर निकलें, बाजारों व सड़कों पर भीड़ न करें। समाज में अपने कर्तव्यों को समझते हुए प्रशासन का सहयोग करें। 65 वर्ष की आयु तक के व्यक्ति,10 साल तक के बच्चे, गर्भवती महिलाएं और कोरोनिक बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों के खुले में घूमने पर पूर्णत: पांबदी रहेगी। ढाबे व रेस्टोरेंट पहले की तरह सिर्फ होम डिलीवरी ही कर पाएंगे।
सभी सब्जी विक्रेताओं को मिलेंगे पास : प्रशासन की तरफ से जरूरतमंद लोगों की जरूरतों को समझते हुए सभी सब्जी विक्रेताओं को पास दिए जाने का निर्णय लिया है। इसके लिए सब्जी बेचने वालों को सोशल डिस्टेंस और मास्क लगाए रखना बहुत जरूरी है । सब्जी मंडी के अलावा अन्य जगहों पर भी उनकी थर्मल स्केनिंग होगी। ताकि कोरोना से बचाव रहे । नई सब्जी मंडी के ड्यूटी मजिस्ट्रेट एवं शुगर मिल के एमडी प्रधुमन सिंह का कहना है कि सब्जी वितरण में पूरी सावधानी बरती हुई है।
सब्जी विक्रेताओं ने की रोजगार की मांग
ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने कहा कि सब्जी विक्रेताओं द्वारा सोमवार को प्रशासन से सब्जी बेचने के लिए पास की मांग की गई । लोगों ने कहा कि लॉकडाउन के चलते ढ़ाई महीने से घर बैठे हैं । अब उनका गुजारा नहीं चलता है । इसलिए उनके पास जारी किए जाएं। वह कोरोना से बचाव के लिए पूरी सावधानी बरतेंगे और उनको रोजगार मिल जाएगा । इस पर डीसी निशांत कुमार यादव ने उनकी जायज समस्या को समझते हुए अप्लाई करने वाले सभी को पास इश्यू करने के आदेश दिए हैं।