लॉकडाउन में कटने लगे दुकानदारों के चालान, व्यापारियों ने की समय बढ़ाने की मांग

रोहतक. लॉक डाउन 4.0 शुरु होते ही अब नियमों की अवहेलना पर व्यापारियों के चालान तेजी से काटे जा रहे हैं। चालान से बचने के लिए और दोपहर में तेज धूप होने के चलते अब व्यापारियों ने समय में बदलाव की मांग की है। दोपहर में धूप तेज हाेने के चलते ग्राहकी भी प्रभावित हो रही है। इसी को लेकर अब व्यापारियों ने सुबह और शाम के समय को बढ़ाने की मांग की है। वहीं दिल्ली रोड ट्रेडर्स एसोसिएशन की बैठक बुधवार को बुलाई गई है।
तीन महीने का किराया दे सरकार : देवेंद्र
मॉडल टाउन व्यापारी एसोसिएशन का गठन के बाद अब व्यापारी नेता देवेन्द्र भारत को सरपरस्त की जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। वहीं अजय धनखड़ को प्रधान, विजय कुमार को महासचिव बनाया गया है। नवनियुक्त सरपरस्त देवेन्द्र भारत ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि लॉक डाउन के समय बंद पड़ी समस्त दुकानों का किराया हरियाणा सरकार को व्यापारियों के खाते में डालना चाहिए और तीन महीने के बिजली के बिल भी माफ करने चाहिए।

प्रशासन कर रहा व्यापारियों का शोषण : बख्शी

राेहतक ट्रेडर्स एसोसिएशन के जिला प्रधान हेमंत बख्शी ने कहा कि सोमवार-गुरुवार, मंगलवार-शुक्रवार और बुधवार-शनिवार फॉर्मूले ने शहर के मुख्य बाजार जैसे रेलवे रोड और किला रोड के दुकानदारों का जीना दूभर कर दिया है। जहां भारी-भरकम देनदारी के रूप में बैंक लिमिट, लोन की किश्तें, बिजली के बिल, बेचे हुए सामान का टैक्स और स्टाफ की सेलरी को दुकानदार मैनेज नहीं कर पा रहा था। अब प्रशासन की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग और समय सीमा निर्धारित करने के एवज में अधिकारी जम के दादागिरी दिखा रहे हैं। हजारों रुपए के चालान के साथ-साथ दुकानों को सील करने की धमकी दी जाती है। चंद घंटों में गांव और शहर का ग्राहक एक ही समय में दुकानदार के पास खरीदारी करने के लिए पहुंच जाता है। या तो सरकार चालान काटना बंद करे या फिर दुकानों को दिए जाने वाले दिन और समय की सीमा बढ़ाए।

शाम 7 बजे तक बढ़ाने की मांग की, बैठक आज

दिल्ली रोड ट्रेडर्स एसोसिएशन की आवश्यक बैठक बुलाई जाएगी। बैठक में प्रशासन की ओर से व्यापारियों के प्रतिष्ठानों की समय सीमा बढ़ाने एवं अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी। हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड के सदस्य अशोक मनोचा ने बताया कि उनका व्यापारिक प्रतिष्ठान दिल्ली रोड ट्रेडर्स एसोसिएशन पर उपस्थित होने के नाते दिल्ली रोड ट्रेडर्स एसोसिएशन की एक आवश्यक बैठक जल्द ही बुलाई जाएगी। इसमें काेरोना महामारी के चलते व्याप्त स्थिति पर मंथन के लिए और प्रशासन की ओर से जो दिशा-निर्देश जारी है, उसके ऊपर भी चर्चा की जाएगी, क्योंकि दिल्ली रोड एक बहुत खुली मार्केट है और लोग यहां पर सुबह गर्मी होने के कारण बाहर खरीदारी करने कम निकलते हैं। इस बैठक के माध्यम से प्रशासन से समय सीमा शाम 7 बजे तक बढ़ाने की मांग की जाएगी और अन्य मुद्दों पर भी विस्तार से चर्चा की जाएगी।

प्रशासन कर रहा व्यापारियों का शोषण : बख्शी

राेहतक ट्रेडर्स एसोसिएशन के जिला प्रधान हेमंत बख्शी ने कहा कि सोमवार-गुरुवार, मंगलवार-शुक्रवार और बुधवार-शनिवार फॉर्मूले ने शहर के मुख्य बाजार जैसे रेलवे रोड और किला रोड के दुकानदारों का जीना दूभर कर दिया है। जहां भारी-भरकम देनदारी के रूप में बैंक लिमिट, लोन की किश्तें, बिजली के बिल, बेचे हुए सामान का टैक्स और स्टाफ की सेलरी को दुकानदार मैनेज नहीं कर पा रहा था। अब प्रशासन की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग और समय सीमा निर्धारित करने के एवज में अधिकारी जम के दादागिरी दिखा रहे हैं। हजारों रुपए के चालान के साथ-साथ दुकानों को सील करने की धमकी दी जाती है। चंद घंटों में गांव और शहर का ग्राहक एक ही समय में दुकानदार के पास खरीदारी करने के लिए पहुंच जाता है। या तो सरकार चालान काटना बंद करे या फिर दुकानों को दिए जाने वाले दिन और समय की सीमा बढ़ाए।