टीम देख ग्राहकों को छत पर चढ़ाया, निगम ने 5 हजार का चालान काटा

  • शाम 5 बजे के बाद खुली मिलने पर 5 दुकानों के खिलाफ की कार्रवाई, 10 दुकानदारों को चेतावनी नोटिस

रोहतक. वैश्विक महामारी संक्रमण के संवेदनशील दौर में होने के बावजूद बचाव के लिए जारी कोविड-19 की गाइड लाइन का हर दिन उल्लंघन जारी है। आमजन के अलावा दुकानदार-व्यापारी भी इस ओर से लापरवाही बरत रहे हैं। सोमवार की शाम साढ़े 6 बजे ऐसी ही घटना रेलवे रोड बाजार में हुई। जहां जैन साइकिल स्टोर के मालिक ने दो बच्चों सहित 8 ग्राहकों को निगम की टीम आती देख तीन मंजिला मकान की छत पर चढ़ा दिया। लेकिन माैके पर पहुंची नगर निगम की टीम दुकान में इधर उधर बिखरी मिली साइकिलाें काे देखकर मकान की छत तक चली गई। जहां पर ढाई साल व पांच साल के दो बच्चे और 6 ग्राहक छिपे खड़े थे। दुकानदार व ग्राहक किसी ने भी मास्क नहीं लगाया था और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया। शाम 5 बजे ही दुकान बंद करने की हिदायत है। फिर भी दुकान साढ़े 6 बजे तक खुली थी। इस पर एलओ सुरेंद्र गोयल ने चालान करते हुए 5 हजार रुपए का जुर्माना वसूला।

वैसे दुकानदार की ओर से जुर्माना कम कराने के लिए देर तक सिफारिश होती रही। इसी क्रम में हुडा कांप्लेक्स में एक टायर की दुकान का 5 हजार रुपए का चालान काटा गया। यह दुकान शाम 6 बजे खुली थी। इसके अलावा निगम की टीम ने दुर्गा भवन मंदिर के पास दो मिठाई की दुकानों और सर्कुलर रोड पर बाइक की एक दुकान का एक-एक हजार रुपए का चालान काटा है। शाम को कार्रवाई पर निकली निगम के काफिले के साथ कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करने की मुनादी भी कराई जाती रही। दुकानदारों व व्यापारियों को अपने प्रतिष्ठान शाम 5 बजे तक बंद करने और शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक आमजन को घर से नहीं निकलने के प्रति जागरुक किया गया। इधर, सुबह में रेलवे रोड बाजार, शौरी मार्केट, भिवानी स्टैंड, चमेली मार्केट, किला रोड बाजार, सर्कुलर रोड आदि क्षेत्रों के निरीक्षण के दौरान नगर निगम की ओर से 10 दुकानों चेतावनी नोटिस दिया गया। इन दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी पाई गई थी।
व्यवस्था बनाने में कारोबारी व आमजन सहयोग दें
सरकार की ओर से कोविड-19 को लेकर जारी गाइड लाइन की पालन सबके लिए जरूरी है। इसका उल्लंघन कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। दुकानदार, कारोबारी और आम शहरवासी भी व्यवस्था बेहतर बनाने में अपना सहयोग दें। कोरोना वायरस से लड़ाई आपसी सहयोग की बदौलत जीती जा सकेगी। -सुरेंद्र गोयल, एलओ नगर निगम।