कोरोना अदृश्य शत्रु पर बनाने होंगे पोस्टर

  • ऑनलाइन पोस्टर, स्लोगन, चित्रकला, कविता और लेखन प्रतियोगिता होगी

रोहतक. कोविड-19 के कारण पूरा देश इस समय एक ऐसे संक्रमण से गुजर रहा है, जहां सभी अपने-अपने घरों में हैं। ऐसी विषम परिस्थिति में अपनी लोक कलाओं के माध्यम से विद्यार्थियों की क्रियाशीलता एवं उनकी प्रतिभा को दिशा देने के लिए सांस्कृतिक केंद्र की ओर से ऑनलाइन पोस्टर एवं श्लोगन, चित्रकला व कविता लेखन का आयोजन किया जा रहा है। उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र, प्रयागराज की ओर से हरियाणा के साथ उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, बिहार व उत्तराखंड राज्य में विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन ऑनलाइन प्रतियोगिता कराई जा रही है।
विद्यार्थियों को नकद पुरस्कार दिया जाएंगे
आर्टिस्ट कृष्ण कुमार ने बताया कि विश्वव्यापी महामारी कोविड-19 के कारण देश में घोषित लॉकडाउन की स्थिति में रचनात्मकता से विद्यार्थियों को जोड़ने एवं उनकी रचनात्मकता को एक आयाम देने के लिए ऑनलाइन प्रतियोगिता कराई जा रही है।
इस प्रतियोगिता का उद्देश्य विद्यार्थियों की प्रतिभा को ऑनलाइन मंच के माध्यम से एक सार्थक दिशा देना है। इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में उत्कृष्ट कार्य करने वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहन के लिए नकद पुरस्कार दिया जाएगा। प्रतियोगिता में प्रतिभागी को थीम अनुसार ही भाग लेना होगा। अलग पोस्टर, स्लोगन, चित्रकला, कविता और लेखन प्रतियोगिता थीम सेे अलग भेजने पर मान्य नहीं
किया जाएगा।
25 मई तक भेजनी होंगी प्रविष्ठियां
विद्यार्थी 25 मई 2020 तक अपनी प्रविष्टियां केंद्र मुख्यालय में [email protected] पर अवश्य भेज दें। केंद्र को भेजी जाने वाली फाइल 5 एमबी से अधिक नहीं होनी चाहिए। पोस्टर एवं श्लोगन प्रतियोगिता तथा कविता लेखन मे कक्षा 9 से 12 तक के बच्चे, चित्रकला प्रतियोगिता मे समूह ‘क’ में 6 से 8 तक के बच्चे तथा समूह ‘ख’ में 9 से 12 तक के बच्चे भाग ले सकते हैं। विस्तृत जानकारी केंद्र के अधिकृत फेसबुक पेज (www.facebook.com/nczcc) से प्राप्त की जा सकती है। सुविधा के लिए इन दो नंबरों 9580495162, 7607001856 पर भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
कोरोना अदृश्य शत्रु विषय पर बनाने होंगे पोस्टर
प्रतिभागियों को लॉकडाउन और हमारा जीवन, कोरोना अदृश्य शत्रु, कोरोना एक महामारी पर पोस्टर और स्लोगन लिखने होंगे। वैश्विक लॉकडाउन में समाज व प्रकृति की पुनरावृति, लॉकडाउन में समाज का योगदान पर कविताएं लिखकर भेजनी होंगी। लॉकडाउन में हमारा जीवन विषय पर ड्राइंग करनी होगी।