11 में से अंतिम मरीज भी ठीक होकर लौटा, बहादुरगढ़ में 10 के लौटने पर अब 37 बचे, एक सप्ताह तक नहीं मिलेगी छूट

बहादुरगढ़. लॉकडाउन 3.0 रविवार को खत्म हो गया। 14 दिन के इस लॉकडाउन पीरियड में तेजी से केस बढ़े। दो सप्ताह के अंदर ही 48 केस सामने आए और कुल केस 90 हो गए। वहीं, जहां केस तेजी से बढ़े तो वहीं इस सप्ताह ठीक होने वाले भी तेजी से सामने आए। झज्जर में 11 केस में से सभी ठीक होकर घर आ चुके हैं। वहीं, रविवार को बहादुरगढ़ में 10 और कोरोना मरीज ठीक होकर घर लौटे। स्वास्थ्य विभाग के ताजा आंकड़ों के अनुसार अब तक झज्जर जिले में 53 मरीज ठीक होकर घर आ चुके हैं। अब 37 मरीज और अस्पतालों में कोरोना से लड़ रहे हैं। अब केवल बहादुरगढ़ क्षेत्र से जुड़े कोरोना संक्रमित व्यक्ति ही दाखिल हैं, जबकि उपमंडल झज्जर, बादली व बेरी अभी तक पूरी तरह से कोरोना मुक्त होने की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग की ओर से की गई है। वहीं, डीसी जितेंद्र कुमार ने स्पष्ट कर दिया है कि लॉकडाउन 4.0 में एक सप्ताह के लिए पहले वाले नियम लागू रहेंगे यानी बहादुरगढ़ को अभी बाजार आदि खोलने की कोई छूट नहीं मिलेगी और झज्जर में दिनवार दुकानें खुलती रहेंगी।
स्वास्थ्य टीम का सीएमओ ने मनोबल बढ़ाया: सीएमओ डाॅ. रणदीप पूनिया झज्जर जिला में कार्यरत मेडिकल व सहित पैरा मेडिकल स्टाफ का नियमित तौर पर जिला प्रशासन की ओर से मनोबल बढ़ रहे हैं। झज्जर जिला में स्थित गौरेया टूरिस्ट काम्प्लेक्स व लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में रूके स्वास्थ्य कर्मियों का उत्साहवर्धन करने के लिए स्वयं सीएमओ पहुंच रहे हैं और उनकी कार्यशैली को सलाम कर रहे हैं। सीएमओ ने कहा कि झज्जर शहरी क्षेत्र रविवार को कोरोना मुक्त हो गया है और शेष बचे कोरोना संक्रमित व्यक्ति भी निर्धारित शेड्यूल को पूरा कर जल्द वापिस लौट आएंगे।
सैंपलिंग से कोरोना संक्रमण का फैलाव रोका : डीसी: डीसी जितेंद्र कुमार ने कहा कि जिले में विगत दिनों तेजी से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़े हैं। जिनका सीधा संबंध दिल्ली की आजादपुर मंडी व दिल्ली के अस्पताल या दिल्ली पुलिस के माध्यम से रहा है। जिला प्रशासन ने गंभीरता से कदम उठाए गए। संक्रमण चक्र को तोड़ने के लिए प्रभावित लोगों को रोहतक व खानपुर अस्पताल में दाखिल करवाते एरिया को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया।

झज्जर में पॉजिटिव केस ठीक होने की दर 59.3, अब महज 21 सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी: झज्जर जिले के लिए कोविड-19 मामले में राहत की बात यह है कि यहां पॉजिटिव केस मिलने से ज्यादा मरीजों के ठीक होने का अनुपात तेजी से बढ़ रहा है। झज्जर जिले में पॉजिटिव केस मिलने का प्रतिशत 2.5 है तो ठीक होने वाले मरीजों का ग्राफ 59.3 प्रतिशत पर पहुंच चुका है। जिले में कुल 90 पॉजिटिव के सामने आ चुके हैं जिनमें से 53 की रिपोर्ट अब निगेटिव आ गई है। इस तरह जिले में एक्टिव केस 37 बचे हैं। बता दें कि झज्जर जिले में अब तक 3886 लोगों के कोरोना वायरस सैंपल लिए गए हैं इनमें से 3574 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब 21 सैंपल की रिपोर्ट का और इंतजार है। जिले में जितने भी पॉजिटिव के आए हैं वे सभी झज्जर और बहादुरगढ़ सब्जीमंडी से अधिकांश जुड़े रहे हैं। आजादपुर सब्जी मंडी का कनेक्शन झज्जर से जुड़ा होने के बाद ही स्वास्थ्य विभाग ने झज्जर और बहादुरगढ़ की सब्जीमंडी से रैंडम सैंपल लिए थे यह करीब 1444 थे। सब्जीमंडी के अलावा स्वास्थ्य विभाग ने जिले भर में कुल 1897 रैंडम सैंपल ले चुकी है इनमें स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिस कर्मचारी, सफाई कर्मचारी के अलावा इमरजेंसी में ड्यूटी दे रहे अन्य लोग शामिल है।
7608 लोगों ने डाउनलोड किया आरोग्य सेतु एप
स्वास्थ विभाग की एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार झज्जर जिले में अभी तक 7608 लोगों ने अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड किया है। इस एप से मिली जानकारी के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इन लोगों से संपर्क साधा है इनमें से 6026 लोग सांस लेने संबंधी लक्षणों के पाए गए हैं जबकि सर्दी खांसी जुकाम से पीड़ित लोग 84 मिले। इनमें से 5 लोगों को ट्रीटमेंट के लिए भर्ती किया गया जबकि 48 लोगों के सैंपल भेजे गए हैं।

अभी पुराने वाले ही रहेंगे नियम

^झज्जर जिले में कोविड-19 के तहत लॉकडाउन 4.0 में अभी आगामी एक सप्ताह तक सभी नियम लॉकडाउन 3.0 के अनुसार ही लागू रहेंगे। स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से यह कदम निरन्तर प्रभावी ढंग से रखने के आदेश सम्बंधित अधिकारियों को दिए गए हैं।
– जितेंद्र कुमार, डीसी, झज्जर