हिसार में काउंट हुए नोएडा और मुंबई ट्रेवल हिस्ट्री वाले रोगी, पाॅजिटिव की संख्या 4 से बढ़कर 7 हुई

  • 214 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव, फ्लू क्लीनिक में 117 प्लस, पुट्ठी समैण में 61, पीएचसी बास में 50 सैंपल लिए

हिसार. यह चिंता बढ़ाने वाला आंकड़ा है कि हिसार-हांसी में ऑफिशियल कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या 4 से बढ़कर 7 हो चुकी है। नोएडा और मुंबई ट्रेवल हिस्ट्री वाले तीनों रोगियों को हिसार में काउंट किया है, जबकि बीएसएफ के हेड कांस्टेबल को दिल्ली में गिनने की सूचना है। हालांकि रोगियों की पहचान होने के बाद से कोरोना पर नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग और जिला प्रशासन प्रयासरत है। ऐसे में आमजन को सतर्क होने की जरूरत है। हिसार में बाहरी राज्यों से आने वाले लोग कोरोना ग्रस्त मिल रहे हैं। ऐसे में आपके आसपास कोई भी व्यक्ति दूसरे राज्यों विशेषकर कोरोना संक्रमित इलाकों से आता है तो उसकी सूचना 70278-30252 पर जरूर दें। अफवाह फैलाने और झूठी सूचना देने पर जेल भी जाना पड़ सकता है। बता दें कि मुंबई से ट्रांसपोर्टर अपनी फैमिली के साथ बड़ी सातरोड आया था। इसकी पत्नी व बेटा पॉजिटिव मिले थे। नोएडा में सुप्रीम कोर्ट के वकील के घर पर सिक्योरिटी गार्ड रिश्तेदार के साथ गाड़ी में बैठकर बडाला गया था, जोकि सैंपल जांच में पॉजिटिव मिला था। वहीं, बीएसएफ कैंप में दिल्ली से आया हेड कांस्टेबल पॉजिटिव निकला था।
इधर, रविवार को एनआरसीई लैब से 214 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. जया गोयल ने बताया कि नोएडा और मुंबई ट्रेवल हिस्ट्री वाले तीन केस हमारे हिसार में गिने जाएंगे। इसको लेकर मुख्यालय से पत्राचार किया था। इधर, पैथोलॉजिस्ट डॉ. मनीष पचार, एलटी अमित ने पुट्ठी समैण में 61, फ्लू क्लीनिक में शाम 7 बजे तक 117 और आइसोलेशन वार्ड में डॉ. सपना के साथ 5 सैंपल लिए हैं। वहीं, डॉ. रवि चौहान और एलटी राकेश की टीम ने पीएचसी बास एरिया से 50 के सैंपल लेकर लैब में भिजवाए हैं।

जानिए जिले में… कब-कब सामने आए मामले

  • सेक्टर 16-17 में 30 मार्च को पहला कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया था। वृद्ध महिला अपने पति के साथ अमेरिका से लौटी थी। यह सप्ताह भर में स्वस्थ होकर मेडिकल कॉलेज से घर लौटी थी।
  • डीसी काॅलोनी में दूसरा केस सामने आया था। यहां एक वृद्ध के कोरोना पॉजिटिव होने की 9 अप्रैल को पुष्टि हुई थी। मेदांता अस्पताल में उपचाराधीन था। कोरोना को हराया मगर अन्य बीमारियों के कारण दम तोड़ दिया था।
  • दड़ौली गांव का युवक तीसरा कोरोना पॉजिटिव केस है। 23 अप्रैल को गाजियाबाद से हिसार आया था। 25 अप्रैल को इसके पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। तभी से अग्राेहा में दाखिल है।
  • डीसी काॅलोनी में दिवंगत का 60 वर्षीय भाई चौथा पॉजिटिव केस निकला था। 26 अप्रैल को पुष्टि हुई थी। अभी वह स्वस्थ होकर घर हैं।
  • बड़ी सातरोड में 12 मई को पांचवां व छठा केस पॉजिटिव मिला था। 10 मई का मुंबई से ट्रांसपोर्टर फैमिली लौटी थी।
  • हांसी के बडाला गांव नोएडा से लौटा सिक्योरिटी गार्ड 16 मई को कोरोना पॉजिटिव मिला था।

नोट : बीएसएफ कैंप में दिल्ली हेडक्वार्टर से लौटे हेड कांस्टेबल के 12 मई को पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। अग्रोहा में भर्ती है। हालांकि यह केस हिसार में काउंट नहीं है।