दस लाख का लोन दिलाने के नाम पर दो लाख ठगे

यमुनानगर. लोन दिलाने के नाम पर एक ठग दो लाख रुपए की ठगी कर गया। अब वह न तो घर पर है और उसका मोबाइल भी बंद है। उसने व्यक्ति को दस लाख रुपए का लोन दिलाने का भरोसा दिया था। व्यक्ति ने अपने दस्तावेज और चेक दे दिए थे। दो चेकों से दो लाख रुपए की रकम लेकर वह फरार हो गया। पीड़ित ने पुलिस को शिकायत दी तो पुलिस ने जांच के बाद केस दर्ज कर लिया है।
राजीव गार्डन निवासी पहल सिंह ने दी शिकायत में बताया कि उसके बेटे ने 12वीं पास कर आइलेइट्स की हुई है। वह विदेश जाकर आगे पढ़ाई करना चाहता है। इसके लिए उन्हें 10 लाख रुपए की जरूरत थी। उन्होंने एक्ससेस बैंक में लोन के लिए अप्लाई किया था। वहां प्रोसेस शुरू हो गया था, लेकिन इसी बीच उनके रिश्तेदार जयकिशन ने उन्हें बताया कि उसके पास अशोक विहार कॉलोनी निवासी सुंदरलाल उर्फ बल्ली आता है। वह उनका लोन करा देगा क्योंकि उसने बताया था कि वह बैंकों से लोन दिलाने का काम करता है। कम ब्याज पर लोन दिला देगा।
उनकी सुंदरलाल से मुलाकात हुई। उसने 10 से 15 दिन में लोन दिलाने की बात कही। उनकी उससे शिवपुरी स्थित मनोज बक्शी के आॅफिस पर 27 नवंबर को मुलाकात हुई थी। उन्होंने लोन से संबंधित दस्तावेज दे दिए थे। दो दिसंबर को उसने फोन कर कहा कि कुछ चेक चाहिए। वे चार चेक लेकर मनोज के आॅफिस पर चले गए। वहां वह आया और चेक लेकर चला गया। कुछ देर बाद फिर वह आया और कहने लगा कि चेक में किए साइन बैंक के रिकाॅर्ड से मैच नहीं हो रहे हैं। वह उन्हें देना बैंक ले गया। वहां उनके दो चेक पर साइन कराए। तभी उन्हें आरोपी बल्ली ने कहा कि वे बाहर जाकर गाड़ी में बैठ जाएं, कुछ देर में ही पेमेंट हो जाएगी। उसने उनका मोबाइल यह कहकर ले लिया कि किसी पर कॉल करनी है, उसके मोबाइल में बैलेंस खत्म हो गया। वे गाड़ी में जाकर बैठ गए। कुछ देर बाद वह उन्हें मनोज बक्सी के आॅफिस पर छोड़कर आ गया और यह कहकर गया कि कुछ देर में ही पेमेंट आ जाएगी। वे वहां पर बैठे इंतजार करते रहे, लेकिन पेमेंट देने नहीं आया। उसके मोबाइल पर कॉल की तो नंबर बंद आया।
उन्होंने अपने स्तर पर बैंक में जाकर जानकारी ली तो पता चला कि बल्ली ने उनके अकाउंट से दो लाख रुपए निकलवा लिए हैं। इसके बाद उन्होंने और उनके रिश्तेदार जयकिशन ने आरोपी सुंदरलाल की तलाश की, लेकिन वह नहीं मिला। उन्हें डर है कि उन चेक और दस्तावेजों का भी वह मिस यूज कर सकता है। पुलिस ने आरोपी सुंदरलाल के खिलाफ धारा-420 और 406 में केस दर्ज किया गया है।