दाे और मरीजाें ने काेराेना काे हराया

  • धूप सिंह नगर की 34 वर्षीय शबनम अाैर 22 साल की एएसअाई लता खानपुर से ठीक होकर लाैटीं

पानीपत. धूप सिंह नगर की 34 वर्षीय शबनम और दूसरी खुबड़ू गांव की 22 साल की एएसआई लता ने काेरोना का हरा दिया है। दाेनाें शनिवार काे खानपुर काेविड-19 अस्पताल से घर लौट गईं। अब 14-14 दिन हाेम क्वारेंटाइन रहेंगी। शबनम 23 अप्रैल और एएसआई लता 25 अप्रैल काे पाॅजिटिव मिली थी। दाेनाें की 14 मई काे रिपाेर्ट निगेटिव मिली है। दिनाें में पानीपत के 22 पाॅजिटिव केस ठीक हाेकर घर लाैटे हैं। इसमें 12 मई काे 8, 13 मई काे 8, 14 मई काे 1, 15 मई काे 3 अाैर 16 मई काे 2 पाॅजिटिव केस ठीक हुए हैं। अब सिर्फ दाे ही एक्टिव केस बचे हैं, दाेनाें सब्जी मंडी से हैं।
शबमन 21 अप्रैल को 14 साल के बेटे को दिल्ली से लेकर लौटी थी। बेटा वहां एक मदरसे में पढ़ता है। विभाग ने मां-बेटे को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया था। 22 अप्रैल काे मां-बेटे के सैंपल लिए गए थे। 23 काे पाॅजिटिव रिपाेर्ट आने पर खानपुर भेजा गया था। बेटा 8 मई काे ठीक हाेकर लाैट चुका है। शबनम के 4 सैंपल हुए , वह दाे बार पाॅजिटिव और दाे बार निगेटिव मिलीं। वहीं 2 मई काे महिला की सास अाैर बेटी भी पाॅजिटिव मिली थी, वाे दाेनाें दाे दिन पहले ही काेराेना काे हराकर घर लाैट चुके हैं।
मृतक केमिस्ट संचालक की रिपाेर्ट निगेटिव आई
हरि सिंह कॉलोनी में शुक्रवार काे 55 वर्षीय केमिस्ट संचालक की मौत हो गई थी। आशंका जताई गई थी कि इसकी मौत का कारण कोरोना है, लेकिन शनिवार काे उसके सैंपल की रिपाेर्ट निगेटिव आई। शुक्रवार काे संचालक काे दम तोड़ने से डेढ़ घंटा पहले ही खांसी-बुखार होने पर सिविल अस्पताल के अाइसाेलेशन वार्ड में एडमिट कराया था। वह शुगर का मरीज भी था।