डॉक्टर सचिन ने दिया इस्तीफा, कोरोना सैंपल लेने का कार्य हुआ बंद

  • डॉ. सचिन ने 12 दिन में 153 सैंपल लिए, दूसरे डॉक्टर को सैंपल लेने की दी जाएगी ट्रेनिंग

सोनीपत. सिविल अस्पताल में मरीजों का कोरोना टेस्ट कराने के लिए सैंपल लेने वाले डॉ. सचिन ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने के पीछे कारण डॉक्टर ने पारिवारिक कारण बताया है। डॉक्टर के इस्तीफा देने के साथ ही गोहाना में सैंपल लेने का कार्य भी बंद हो गया है। नोडल अधिकारी द्वारा सैंपल क्लेक्शन सेंटर चलाने के लिए दूसरे डॉक्टर को सोमवार को सोनीपत में ट्रेनिंग पर भेजा जाएगा। डॉक्टर के ट्रेनिंग पूरी करके आने तक सेंटर में सैंपल क्लेक्शन का कार्य बंद रहेगा। मरीजों की सुविधा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने सिविल अस्पताल गोहाना में कोरोना सैंपल क्लेक्शन सेंटर बनाया था।
सेंटर चलाने के लिए डॉ. सचिन को सोनीपत में ट्रेनिंग दी गई थी। सेंटर में शनिवार तक करीब 153 मरीजों के सैंपल लेने का कार्य किया जा चुका है। शनिवार दोपहर बाद डॉ. सचिन ने एसएमओ डॉ. कर्मवीर को इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने पर अधिकारियों की परेशानी बढ़ गई है। दूसरा डॉक्टर आने तक मरीजों को सैंपल के लिए सोनीपत भेजा जाएगा। जहां से रिपोर्ट आने में कई दिन लग जाते हैं। जबकि गोहाना से सैंपल लेकर मेडिकल कॉलेज, खानपुर कलां भेजने के 24 घंटे के अंदर ही रिपोर्ट अस्पताल में पहुंच जाती है।

डॉ. सचिन ने चार अप्रैल को किया था ज्वाइन

डॉ. सचिन ने लॉकडाउन के दौरान चार अप्रैल को पीएचसी सरगथल में ज्वाइन किया था। कुछ दिन बाद ही सीएमओ ने डॉ. सचिन की डेपुटेशन सोनीपत कर दी थी। गोहाना में सैंपल क्लेक्शन सेंटर शुरू किया था तो उसकी ड्यूटी सैंपल लेने के लिए लगा दी थी। इसके लिए डॉ. सचिन को ट्रेनिंग भी दी गई थी। सेंटर चार मई को शुरू हुआ था। इसके बाद वह निरंतर सेंटर में सेवाएं दे रहा था। रात को कॉल करने पर वह अस्पताल में सैंपल लेने के लिए पहुंच जाता था। उसके कार्य के प्रति लगन को देखते हुए नोडल अधिकारी डॉ. कर्मवीर ने उसके द्वारा सराहनीय कार्य करने की रिपोर्ट जिला मुख्यालय को भेजी थी।
मुख्यालय ने 23 मई तक ही सेवाएं रहने का भेजा था पत्र : डॉ. सचिन ने नौकरी छोड़ने का नोटिस दिया था। अगले ही दिन उन्होंने ज्वाॅइन कर लिया था। कई दिन पहले मुख्यालय ने पत्र लिखकर डॉ. सचिन की सेवाएं 23 मई तक ही रखने के आदेश दिए थे। इसके बाद सेवाएं निरंतर रखने के लिए उन्हें मुख्यालय से मंजूरी लेने के निर्देश दिए थे। पत्र के अनुसार अगले एक सप्ताह ही डॉ. सचिन की सेवाएं बची हुई थी।
^डॉ. सचिन ने इस्तीफा दे दिया है। डॉ. अनिल चहल को सैंपल लेने की ट्रेनिंग दिलाई जाएगी। डॉ. चहल को सोमवार को सोनीपत भेजा जाएगा। ट्रेनिंग से वापस आने तक अस्पताल में सैंपल क्लेक्शन सेंटर पर मरीज का सैंपल नहीं लिया जाएगा। -डॉ. कर्मवीर, एसएमओ, सिविल अस्पताल, गोहाना।