टूरिस्ट वीजा पर धर्म का प्रचार करने वाले 107 जमातियों को न्यायिक हिरासत में भेजा

  • प्रदेश में आए थे 1614 तब्लीगी, इनमें 128 मिले थे संक्रमित

पानीपत. दिल्ली के निजामुद्दीन तब्लीगी मरकज समेत अनेक राज्यों से हरियाणा में आए जमातियों के खिलाफ राज्य सरकार ने कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी है। टूरिस्ट वीजा पर आकर देश में धार्मिक प्रचार-प्रसार में लगे 107 जमातियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। जबकि इनके पासपोर्ट सरकार पहले ही जब्त कर चुकी है। सजा भुगतने के बाद इन्हें छोड़ा जाएगा और इसके बाद ही ये वापस अपने देश जा सकेंगे। इनके खिलाफ प्रदेश के पांच जिले गुड़गांव, नूंह, पलवल, अंबाला और पानीपत में वीजा उल्लंघन के आरोप में केस दर्ज किए गए थे। ये विदेशी जमाती श्रीलंका, इंडोनेशिया, साउथ अफ्रिका, मलेशिया और बांग्लादेश आदि देशों से आए थे। इन्होंने भारत में घूमने के लिए वीजा लिया था। परंतु यहां ये अपने धर्म का प्रचार कर रहे थे। अब इन्हें सजा पूरी करने के बाद इनके देश भेजा जाएगा। इसके अलावा उन 29 जमातियों के खिलाफ भी जल्द कार्रवाई की जाएगी, जो सरकार की ओर से 8 अप्रैल तक सरेंडर करने के दिए गए वक्त के बाद पकड़े गए थे। इनके खिलाफ भी 307 और 188 की धारा के तहत मुकदमे दर्ज हैं।
28 मार्च के बाद प्रदेश में एकाएक कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ था, क्योंकि दिल्ली और दूसरे प्रदेशों से आए 1614 जमाती यहां आए। इनमें एक हजार से ज्यादा जमाती तो विदेशी और दूसरे राज्यों के थे। गृहमंत्री विज ने कहा कि 128 जमाती कोरोना पॉजिटिव मिले। 29 जमाती पकड़े गए, जिनके खिलाफ केस दर्ज हुआ।