झाड़े से सभी बीमारी ठीक करने का कर रहे थे दावा, पुलिस पहुंची तो हुए फरार

  • लॉकडाउन तोड़कर गांव पिंजूपुरा में उमड़ रही थी झाड़ा लगवाने वालों की भीड़, पुलिस ने की छापेमारी
  • लोगों का आरोप- गांवों में बड़ी संख्या में बाहर से आ रहे लोग, बीमारी फैलने का खतरा

पानीपत. हलके के गांव पिंजूपुरा में कुछ लोग अंधविश्वास फैला रहे हैं। लोगों को बरगलाने के लिए दावा कर रहे हैं कि यहां सभी बीमारी के झाड़े लगाए जाते हैं। अंधविश्वासी लोग भी नियमों की अवहेलना करते हुए ढोंगियों के पास झाड़ा लगवाने के लिए पहुंच रहे हैं। शनिवार को कलायत पुलिस ने छापेमारी की तो ढोंगी मौके से फरार हो गए।
झाड़ा लगाकर भूत-प्रेत, बाधा दूर करने के साथ-साथ हर बीमारी का पूर्ण उपचार का दावा करने वाले उपमंडल के कई अन्य गांवों में भी अंधविश्वास को फैला रहे हैं। वैसे तो गांव पिंजूपुरा में हर दिन झाड़ा लगाने वालों की लाइन लगती है, लेकिन शनिवार और रविवार को झाड़ा लगवाने वालों की संख्या सैकड़ों में होती है। लोग झाड़ा लगवाने के लिए दूरदराज के शहरों से भी बड़ी-बड़ी गाड़ियाें व अन्य वाहनों में सवार होकर भारी संख्या में पहुंचते हैं। झाड़ा लगवाने वालों में यह नहीं है कि अशिक्षित ही लोग पहुंच रहे हैं, उनमें वे भी लोग हैं, जो शिक्षित है। इस अंधविश्वास में फंसे हुए हैं। बड़ी-बड़ी लग्जरी गाड़ियाें में सवार होकर पिंजूपुरा पहुंचते हैं। सूत्रों की मानें तो झाड़ा लगवाने वालों द्वारा उन लोगों से मोटी रकम ऐंठी जाती है। पिंजूपुरा के कुछ लोगों ने बताया कि यह कारोबार पिछले लंबे समय से चल रहा है। यहां पर झाड़ा लगाने वाले हर बीमारी का झाड़ा लगाने की बात कहकर दूर दराज से आने वाले लोगों से मोटी रकम ऐंठते हैं। झाड़ा लगवाने वालों में कुछ लोग तो गंभीर बीमारी से ग्रस्त होते हैं। गांव में भी बीमारी फैलने का खतरा बढ़ रहा है। उन्होंने प्रशासन से त्वरित कार्रवाई की मांग की है। शनिवार दोपहर करीब 12 बजे जब रेलवे पुल के पास भारी संख्या में पहुंचे लोग झाड़ा लगवा रहे थे तभी गांव वालों ने इसकी सूचना मीडिया कर्मियों को दी। जैसे ही मीडियाकर्मी पहुंचे तो वहां झाड़ा लगाने वालों के इशारे पर लोग इधर-उधर खिसक लिए।

महिलाएं भी पहुंची थी झाड़ा लगवाने

पिंजूपुरा झाड़ा लगवाने के लिए कुछ ऐसी महिलाओं की पहुंची हुई थी, जिनके हाथों में डॉक्टरों द्वारा लगाए जाने वाला कैनुला भी लगा हुआ था। देखने से साफ पता चल रहा था कि वह लंबे समय से बीमार हैं। कई महिलाएं ऐसी भी, जो चल फिर नहीं सकती थीं और उन्हें वाहनों से सहारा देकर उतारा जा रहा था।

पुलिस टीम ने की छापेमारी: थाना प्रभारी
थाना प्रभारी बिलासा राम ने बताया कि झाड़ा लगाने की सूचना मिलने के बाद पुलिस टीम मौके पर गई थी लेकिन उस समय वहां पर झाड़ा लगवाने वाला कोई भी व्यक्ति नहीं मिला। उन्होंने कहा कि झाड़ा लगाने के नाम पर अंधविश्वास फैलाने वाले लोगों के खिलाफ शिकायत मिलने पर ठोस कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आरोपियों को जल्द काबू करेगी। उन्हें किसी सूरत में बख्शेंगे नहीं।