प्रदेश के अन्य जिलों की तरह पानीपत में भी होनी चाहिए बुक्स की होम डिलीवरी

  • डीईईओ बोले- खंड शिक्षा अधिकारियों से बुक स्टोर की लिस्ट मांगी

पानीपत. अन्य जिलों की तरह पानीपत में भी बुक्स की होम डिलीवरी की मांग शुक्रवार को हरियाणा स्कूल संघ ने जिला शिक्षा अधिकारी से की। संघ का कहना है कि बुक स्टोर पर पर्याप्त जगह न होने के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन नहीं हो पा रहा है। ऐसे में संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ सकता है।
हरियाणा स्कूल संघ के प्रांतीय अध्यक्ष विजेंद्र मान ने बताया कि संघ की ओर से इस बावत 3 मांग पत्र पहले ही जिला प्रशासन को दिए जा चुके हैं। स्कूल संघ की मांग है कि स्कूलों के अंदर पर्याप्त स्थान है और बुक स्टोर पर जगह का आभाव रहता है। जिले में सीबीएसई के करीब 46 स्कूल हैं। जिनमें करीब 2 लाख बच्चे पढ़ते हैं। अब तक 25 प्रतिशत बच्चों तक ही बुक्स पहुंच सकी हैं। जिले में बुक्स की करीब 45 दुकान हैं। नए सत्र को शुरू हुए एक महीने से ज्यादा समय बीत चुका है। लॉकडाउन के कारण बच्चे बुक्स नहीं खरीद पाए हैं। कुछ दिन पहले ही लॉकडाउन में जिला प्रशासन ने राहत दी है। बुक्स की दुकानों पर सुबह से ही अभिभावकों की भीड़ जुटना शुरू हो जाता है। सभी को पहले बुक्स लेने की जल्दी रहती है। इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग टूट रही है। जबकि कोविड-19 वायरस तेजी से ग्रुप्स में फैल रहा है। ऐसे में वायरस फैलने का खतरा अभिभावकों को सताने लगा है। हरियाणा स्कूल संघ ने प्रशासन को दो ऑप्शन दिए थे कि या तो बुक्स की होम डिलीवरी करवाई जाए या बुक्स को स्कूलों के अंदर से ही बिकवाया जाए। इस मामले में डीईईओ रमेश का कहना है कि सभी खंड शिक्षा अधिकारियों से बुक स्टोर की लिस्ट मांगी गई है। होम डिलीवरी कराए जाने पर विचार किया जा रहा है।